ताज़ा खबर
 

स्मृति ईरानी के खिलाफ टिप्पणी पर भाजपा का प्रदर्शन

भाजपा ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी करने वाले कांग्रेस विधायक नीलमणि सेंडेका की गिरफ्तारी की मांग को लेकर यहां कांग्रेस मुख्यालय के सामने प्रदर्शन किया..

Author गुवाहाटी | Published on: December 28, 2015 11:27 PM
गुवाहाटी में प्रदर्शन करते भाजपा कार्यकर्ता।

भाजपा ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी करने वाले कांग्रेस विधायक नीलमणि सेंडेका की गिरफ्तारी की मांग को लेकर यहां कांग्रेस मुख्यालय के सामने प्रदर्शन किया। पुलिस ने बताया कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने डेका के आवास का घेराव किया और डेका को उन्हें सौंप देने को कहा, लेकिन जब वह उन्हें वहां नहीं ढूंढ पाए तो कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन पहुंच गए क्योंकि उन्हें पता चला कि पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने के लिए डेका वहां गए होंगे।

रविवार को एक सार्वजनिक सभा में ईरानी के खिलाफ कथित टिप्पणियों को लेकर भाजपा कार्यकर्ता सेंडेका को सोमवार शाम चार बजे से पहले उन्हें सौंपने और उनकी तत्काल गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। उन्होंने कांग्रेस से उन्हें पार्टी से निष्कासित करने की भी मांग की। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर लाठी डंडे निकालने और पत्थर फेंकने का दावा किया, जिसमें कुछ लोग घायल हए, जिसके बाद पुलिस बुलाई गई। हालांकि, व्यस्त जी एस रोड, जहां कांग्रेस मुख्यालय स्थित है, पर स्थिति बिगड़ने और यातायात प्रभावित होने पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े।

कांग्रेस नेताओं ने मौके पर पहुंचे गुवाहाटी के पुलिस आयुक्त मुकेश अग्रवाल के सामने दावा किया कि पुलिस कार्रवाई में देरी के कारण स्थिति हिंसक हो गई। उन्होंने दावा किया कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने उन पर पत्थर फेंके लेकिन कांग्रेसी कार्यकर्ता शांत बने रहे।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हेलमेट पहने और हाथों में लाठियां लिए राजीव भवन में गेट के पीछे खड़े देखा गया। संपर्क करने पर भाजपा ने बताया कि उसके कार्यकर्ता किसी तरह की हिंसा में संलिप्त नहीं हैं और सेंडेका के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रदर्शन आयोजित किया गया है।

असम में पीसीसी के प्रमुख प्रवक्ता रिपुण बोरा ने रविवार को सेंडेका की टिप्पणियों की निंदा की थी और कहा था कि यह उनके व्यक्तिगत विचार हैं और पार्टी का इससे कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा था कि एपीसीसी जांच करेगी और सेंडेका से पूछेगी कि किन परिस्थितियों में उन्होंने यह टिप्पणी की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्‍या!
X