ताज़ा खबर
 

UP बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की उंगली कटी, मुजफ्फरनगर में स्वागत के दौरान कार से उतरते वक्त हुआ हादसा

UP BJP President Swatantra Dev Singh: घटना मुजफ्फरनगर के सर्कुलर रोड की है। आनन-फानन में उन्हें वर्धमान हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां उन्हें भर्ती किया गया है।

उत्तर प्रदेश बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह फोटो सोर्स- स्वतंत्र देव सिंह/ट्विटर

Swatantra Dev Singh: उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह गाड़ी से उतरने के दौरान चोटिल हो गए। प्राप्त जानकारी के मुताबिक वे मुजफ्फरनगर पहुंचे थे, जहां भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता उनका स्वागत कर रहे थे। इसी बीच उनके हाथ में चोट लग गई। अब तक मिली जानकारी के अनुसार उनकी उंगली कट गई है। घटना मुजफ्फरनगर के सर्कुलर रोड की है। आनन-फानन में उन्हें वर्धमान हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां उन्हें भर्ती किया गया है।

संगठन मजबूत करने में जुटे हैं सिंहः बता दें कि स्वतंत्र देव सिंह इन दिनों प्रदेश अध्यक्ष का पद मिलने के बाद राज्य के अलग-अलग हिस्सों में जाकर संगठन को मजबूत करने में जुटे हैं। इस दुर्घटना से पहले उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ महानगर का भी दौरा किया था। वहां उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। इसके साथ ही उन्होंने किसान नेता पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा और प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के शहीद स्मारक पर पर पुष्पांजलि भी अर्पित की।

राज्य में चल रही है विधानसभा उपचुनाव की तैयारियांः उन्हें पिछले दिनों ही महेंद्र नाथ पांडेय के बाद उत्तर प्रदेश की बागडोर सौंपी गई है। पांडेय फिलहाल केंद्र सरकार में मंत्री हैं। एक समय स्वतंत्र देव सिंह उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के दावेदारों की लिस्ट में भी शुमार थे। राज्य में आने वाले दिनों में करीब एक दर्जन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव भी होने वाले हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘दुर्गा पूजा समितियों के जरिए ब्लैकमनी को वाइट कर रहे ममता बनर्जी के नेता’
2 Karnataka Floods: कर्नाटक में बाढ़ से मचा हाहाकार, 40 लोगों की मौत 5 लाख बेघर; घर की छत पर पहुंचा मगरमच्छ
3 Article 370: RJD सुप्रीमो भी परेशान? रांची में नहीं मिल रहे लालू यादव के फेवरेट कश्मीरी सेब