ताज़ा खबर
 

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भाजपा ने पास किया आर्थिक प्रस्ताव, जेटली बोले- नोटबंदी से मजबूत होगी अर्थव्यवस्था

पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी पदाधिकारियों से पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में बीजेपी की जीत सुनिश्चित करने में जोर-शोर जुटने को कहा ।

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, वित्त मंत्री अरुण जेटली और लालकृष्म आडवाणी।

बीजेपी की दो दिवसीय राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का आज (शनिवार को) दूसरा और आखिरी दिन है। एनडीएमसी कन्वेन्शन सेंटर में आयोजित पार्टी कार्यकारिणी की बैठक में आज आर्थिक प्रस्ताव को हरी झंडी दी गई। वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने अपने भाषण में कहा कि नोटबंदी का निर्णय सफल रहा है। इससे लंबे अवधि में अर्थव्‍यवस्‍था को लाभ मिलेगा। उन्‍होंने कहा कि इसका असर इस तरह भी समझा जा सकता है कि इस फैसले के असर से होम लोन की ब्‍याज दरें एक बार में एक फीसदी तक गिर गईं। इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ। आज की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि नोटबंदी का निर्णय बेहद सफल रहा है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद भी हम सक्रिय रहे और 50 दिन बाद प्रधानमंत्री ने देश की जनता को संबोधित कर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि नोटबंदी की वजह से आतंकियों की लाइफलाइन खत्‍म हुई है।

शुक्रवार को बैठक के पहले दिन बीजेपी ने कहा था कि नोटबंदी कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीब समर्थक होने का मुद्दा कांग्रेस और बाकी विपक्षी पार्टियों से छीन लिया है और इसीलिए वो बौखलाई हुई हैं। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि गरीबों ने नोटबंदी का पूरा समर्थन किया है जबकि विपक्ष नकारात्मक राजनीति कर रहा है और उसकी भूमिका विकास के क्रम में रुकावट पैदा करने वाली है। उन्‍होंने कहा कि नोटबंदी को आम जनता का व्यापक समर्थन मिला है, निकाय चुनाव के नतीजे इसका प्रमाण हैं।

राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आज शाम प्रधानमंत्री मोदी पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए मोदी जीत का मंत्र दे सकते हैं। दो दिनों की इस बैठक में कल पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी पदाधिकारियों से पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में बीजेपी की जीत सुनिश्चित करने में जोर-शोर जुटने को कहा था। अमित शाह ने पार्टी नेताओं से गोवा और पंजाब में सरकार की वापसी के साथ यूपी, उत्तराखंड और मणिपुर में कमल खिलाने का दावा किया। चंदे में पारदर्शिता के लिए एक समिति का भी गठन किया गया है।

वीडियो देखिए- 88 वर्ष के हुए भाजपा के भीष्म पितामह लाल कृष्ण आडवाणी, जानिए कुछ खास बातें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App