ताज़ा खबर
 

यूपी: बीजेपी सांसद के दबंग तेवर, पुलिस के सामने जमीन पर किया कब्‍जा, फिर दी सफाई

हैरानी की बात है कि मामला कोर्ट में होने के बावजूद सांसद सावित्रीबाई फुले ने कोर्ट की परवाह भी नहीं की और पूरे प्रशासन को दरकिनार करते हुए किसान की फसल बर्बाद कर दी।

भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले। (image source-ANI)

पिछले कुछ समय से अपनी ही पार्टी के खिलाफ बगावती तेवर अपनाने वाली भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले एक बार फिर चर्चा में हैं। दरअसल भाजपा सांसद पर आरोप लगा है कि उन्होंने खुलेआम दबंगई करते हुए एक किसान की खड़ी फसल पर ट्रैक्टर चलवा दिया और उसकी जमीन को कब्जाने की कोशिश की। यह घटना बहराइच के मोतीपुर तहसील के गांव मझाव की है। रिपब्लिक वर्ल्ड डॉट कॉम की एक खबर के अनुसार, मझाव गांव में एक जमीन पर विवाद है और मामला कोर्ट में विचाराधीन है। लेकिन भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले गांव पहुंची और उक्त जमीन पर खड़ी फसल पर ट्रैक्टर चलवा कर पूरी फसल बर्बाद कर दी।

घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन पुलिस की मौजूदगी के बावजूद भाजपा सांसद नहीं रुकीं और फसल पर ट्रैक्टर चलवाना जारी रखा। इस दौरान लोगों ने जब इसका विरोध किया तो भाजपा सांसद उनसे भी उलझ गईं और लोगों को अपशब्द कहे। हैरानी की बात है कि मामला कोर्ट में होने के बावजूद सांसद सावित्रीबाई फुले ने कोर्ट की परवाह भी नहीं की और पूरे प्रशासन को दरकिनार करते हुए किसान की फसल बर्बाद कर दी। वहीं सांसद की इस कारवाई से किसान परिवार काफी दुखी है और उसने सांसद के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिया है। पीड़ित परिवार का कहना है कि सांसद की कारवाई से उनकी करीब 2-3 लाख रुपए की फसल बर्बाद हो गई। ऐसे में सरकार उनके साथ न्याय करें।

वहीं इस मुद्दे पर भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले का कहना है कि उनके खिलाफ लगाए जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। यदि गरीब आदमी के नाम पर किसी जमीन का रजिस्ट्रेशन है तो गुंडे अधिकारियों के साथ मिलकर उसकी जमीन कब्जा लेते हैं। उत्तर प्रदेश में दलितों को दबाया जा रहा है, जो उनकी जमीनों को गैरकानूनी तरीके से छीना जा रहा है। बता दें कि भाजपा सांसद इससे पहले भी कई बार चर्चाओं में आ चुकी हैं। बीते दिनों अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हुए जिन्ना विवाद पर सावित्रीबाई फुले ने यह कहकर भाजपा की किरकिरी करा दी थी कि ‘जिन्ना महापुरुष थे और जिन महापुरुषों ने देश की आजादी में संघर्ष किया, उनका सम्मान किया जाना चाहिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App