ताज़ा खबर
 

यूपी में जनसंख्या के आधार पर हो श्मशान व कब्रिस्तान का निर्धारण, बोले साक्षी महाराज

भाजपा नेता के बयान पर समाजवादी पार्टी ने निशाना साधा है।

BJP MP Sakshi Maharajभाजपा सांसद साक्षी महाराज। (पीटीआई)

अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले भाजपा सांसद साक्षी महाराज एक बार फिर चर्चा मे हैं। इस बार उन्होंने श्मशान घाट और कब्रिस्तान के मुद्दे पर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि यूपी में विभिन्न स्थानों पर श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों का निर्धारण दो प्रमुख समुदायों की जनसंख्या के आधार पर किया जाना चाहिए। साक्षी महाराज ने कहा कि मुस्लिमों को भी मृतकों को दफनाने की बजाय उन्हें जलाना शुरू कर देना चाहिए।

भाजपा नेता ने कहा कि देश में करीब 2 से 2.5 करोड़ साधू हैं। अगर हम उन सभी के लिए ‘समाधि’ का निर्माण शुरू करते हैं तो जितनी भूमि की जरुरत होगी, उसकी कल्पना की जा सकती है। ठीक इसी तरह देश में 20 करोड़ मुस्लिम हैं। अगर सभी को दफनाया जाना है तो जमीन की उपलब्धता कहां होगी?

Bihar Election 2020 LIVE Updates

साक्षी महाराज ने रविवार (25 अक्टूबर, 2020) को अपने संसदीय क्षेत्र उन्नाव में बांगरमऊ सीट पर उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार श्रीकांत कटियार के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ये बात कही। उन्होंने कहा कि एक कानून होना चाहिए, जिसमें किसी को भी भूमि दफनाने के लिए नहीं दी जानी चाहिए। सभी समुदायों का दाह संस्कार का विकल्प चुनना चाहिए।

बकौल महाराज अन्यथा एक दिन ऐसा आएगा जब हमारे पास खेती के लिए जमीन नहीं बचेगी। उन्होंने कहा कि हमारे धैर्य और शालीनता का टेस्ट नहीं लिया जाना चाहिए। इधर भाजपा नेता के बयान पर समाजवादी पार्टी ने निशाना साधा है। पार्टी के एक प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा नफरत की राजनीति कर रही है और हर चुनाव में ऐसा करती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार चुनाव: नीतीश की सभा में बोले ग्रामीण- युवाओं को रोजगार के मामले में नीतीश भी फेल, मोदी भी फेल
2 जो हम पर उठा रहे सवाल, वे सावरकर को क्यों नहीं देते भारत रत्न?- शिवसेना का भाजपा पर वार
3 पायल घोष की सियासत में एंट्रीः ज्वॉइन की रामदास अठावले की RPI, अनुराग कश्यप पर लगा चुकी हैं यौन शोषण के आरोप
ये पढ़ा क्या?
X