ताज़ा खबर
 

मेरठः अर्जी ले पहुंची थी जनता तो BJP सांसद हो गए नाराज! बोले- बेकार की धमकी न दें, जो सही लगे करना

गंगा एक्सप्रेस-वे के अलाइनमेंट को लेकर किसान परेशान हैं। अपनी व्यथा सुनाने के लिए किसान सांसद जी के पास पहुंचे। किसानों का कहना है कि जहां अलाइनमेंट का स्रवे किया गया था निर्माण वहीं होना चाहिए।

Rajendra Agrwal, BJP, Farmers,अर्जी लेकर पहुंचे किसानों पर बीजेपी सांसद भड़क गए। (फोटो-स्क्रीनशॉट)

वोट मांगने से पहले विनम्रता से पेश आना और फिर चुनाव जीतने के बाद जनता को भूल जाना। राजनीति में यह कहावत लंबे अरसे से चली आ रही है। नेता वादा पूरा करने ना करें, जनता की समस्या का निदान भले ना करें लेकिन इस कहावत को चरितार्थ जरूर कर रहे हैं। ऐसी ही कुछ हुआ उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में। यहां जनता की अर्जी सुन रहे बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल जनता पर ही खफा हो गए। इतना ही नहीं नेता जी तैश में आकर धमकाने भी लगे। उन्होंने यहां तक कह दिया कि बेकार की धमकी ना दें जो सही लगे कर लेना।

दरअसल, गंगा एक्सप्रेस-वे के अलाइनमेंट को लेकर किसान परेशान हैं। अपनी व्यथा सुनाने के लिए किसान सांसद जी के पास पहुंचे। किसानों का कहना है कि जहां अलाइनमेंट का स्रवे किया गया था निर्माण वहीं होना चाहिए। बार-बार अलाइनमेंट की बात बदलने को लेकर किसान परेशान है। सांसद जी का कहना था कि आजकल उनका लखनऊ आना जाना नहीं हो रहा है। वह दिल्ली में इस बात को रखेंगे। इस पर अर्जी लेकर पुहंचे लोगों ने कहा कि आप जो  कह रहे हैं कि विधायक जी देखेंगे। यह गलत है। हमारा समय है मदद चाहिए हम लोगों को। इस पर सांसद ने कहा अरे समय है तो समय है बेकार की बातें मत करो जो करना हो कर लेना। जो उचित लगे करना।

सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो रहा है।  @Satyanarayntri1 ने तंज कसते हुए लिखा है, आज कल जन प्रति निधि कम हो गये है धन प्रतिनिधि अधिक इसलिऐ उनके यहा बहुत कम आमजन का दरबार होता है। वहांअधिकांश माफिया अपराधी कोटेदार ठेकेदार और उनके सम्बधित विभागीय अधिकारियो का ही दरबार होता हैअधिकारियो के जनता दर्शन मे कहीं कहीं कोई जनता दर्शन कर लेता है और वहां भी गड़बड़ ही करताहै।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चुनाव प्रक्रिया में अहम बदलाव की तैयारी में मोदी सरकार, आधा दर्जन से ज्यादा टॉप अफसरों का PMO में मंथन, राज्यों से छिन सकते हैं ये अधिकार!
2 नहीं मिला ड्राइवर तो COVID-19 मरीज को डॉक्टर ने एंबुलेंस चला पहुंचाया अस्पताल
यह पढ़ा क्या?
X