ताज़ा खबर
 

कर्नाटक: बीजेपी के दलित सांसद को गांव में घुसने से रोका, ग्रामीणों ने कहा- ‘अछूत’

दलित समुदाय से ताल्लुक रखने वाले कर्नाटक के चित्रदुर्ग से भाजपा सांसद को अपने ही संसदीय क्षेत्र के लोगों ने गांव में जाने से रोक दिया। कहा कि अन्य पिछड़ा वर्ग के गांव में दलितो का प्रवेश नहीं होने दूंगा।

Author बंगलुरू | Published on: September 17, 2019 3:54 PM
कर्नाटक के बीजेपी सांसद ए नारायणस्वामी (फोटो सोर्स फेसबुक)

कर्नाटक के चित्रदुर्गा से बीजेपी सांसद ए नारायणस्वामी को दलित समुदाय से होने की वजह से अपने ही संसदीय क्षेत्र में असहज स्थिति का सामना करना पड़ा। सोमवार को उनको एक गांव के लोगों ने अपने यहां नहीं प्रवेश करने दिया और गांव के बाहर से ही वापस कर दिया। नारायणस्वामी वहां कुछ डॉक्टरों और एक फार्मा कंपनी के अधिकारियों के साथ दौरा करने गए थे। घटना तुमकुर जिले के पावगाड़ा तालुक में सोमवार को हुई।

पिछड़े समुदाय के गांव में दलितों का प्रवेश मना: नारायणस्वामी जब गोलारहट्टी गांव में जाने लगे तो गोला समुदाय के लोगों ने उन्हें बाहर ही रोक लिया और वापस जाने को कहा। उनका कहना था कि यहां दलित और निम्न समुदाय के लोगों को आने की अनुमति नहीं है। गोलारहट्टी गांव में अन्य पिछड़ा वर्ग के लोग रहते हैं और अपने गांव में दलितों को प्रवेश नहीं करने देते हैं।

सांसद ने कोई विरोध नहीं किया : गोला समुदाय के लोगों ने सांसद से कहा कि अभी तक कोई भी दलित इस गांव में नहीं आ सका है और आगे भी नहीं आने पाएगा। समुदाय के लोगों से थोड़ी बातचीत के बाद सांसद नारायणस्वामी अपनी कार में बैठकर वापस चले गए। हालांकि उन्होंने गांव वालों की भावना का कोई विरोध नहीं किया।

National Hindi News 17 September 2019 LIVE Updates: 69 के हुए PM मोदी, मुलाकात के लिए दिल्ली आएंगी ममता बनर्जी

एसपी ने इंस्पेक्टर से रिपोर्ट मांगी : जिले के एसपी ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि सांसद को किसने रोका। हम उन लोगों को खोज रहे हैं। स्थानीय थाने के इंस्पेक्टर से रिपोर्ट मांगी गई है। मुझे सिर्फ इतना पता है कि उनके दूसरी जाति के होने की वजह से उन्हें गांव में नहीं जाने दिया गया।

उपमुख्यमंत्री ने की निंदा: कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री सीएन अस्वथ नारायण ने घटना की निंदा की। उन्होंने कहा कि यदि सांसद को गोलारहट्टी में प्रवेश करने से रोका गया तो मैं इसकी निंदा करता हूं। इस पर कार्रवाई होगी। कहा हम सब एक हैं, कोई भेदभाव नहीं होनी चाहिए। हम लोग के शरीर में एक ही खून बह रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दिग्विजय सिंह बोले- भगवा पहन रेप कर रहे लोग, मंदिर में हो रहे बलात्कार, क्या यही है सनातन धर्म?
2 UPSC के इंटरव्यू में अजब सवाल, पूछा गया- आजम खां पर कितनी बकरी चोरी का आरोप?