‘रोज पांच बार पढ़ें हनुमान चालीसा, दूर होगा कोरोना’, बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर की अपील

प्रज्ञा ने ट्वीट किया, ‘‘आइए हम सब मिलकर कोरोना वायरस महामारी को समाप्त करने के लिए लोगों के अच्छे स्वास्थ्य की कामना के लिए एक आध्यात्मिक प्रयास करें।’’

COVID-19, Pragya Thakur, Hanuman chalisa
सांसद ने कहा कि पांच अगस्त को अनुष्ठान का रामलला की आरती के साथ घरों में दीप जलाकर समापन करें। (फाइल फोटो)

कोरोना महामारी को लेकर राजनेताओं के अजीबोगरीब बयान थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। इस क्रम में अब नया नाम भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का है।

मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट की भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने शनिवार को लोगों से आह्वान किया है कि देश से कोरोना महामारी को समाप्त करने के लिए वे ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ करें। प्रज्ञा ने ट्वीट किया, ‘‘आइए हम सब मिलकर कोरोना महामारी को समाप्त करने  व लोगों के अच्छे स्वास्थ्य की कामना के लिए आध्यात्मिक प्रयास करें।’’ उन्होंने लिखा, ‘‘25 जुलाई से 5 अगस्त तक प्रतिदिन शाम 7:00 बजे अपने घरों में हनुमान चालीसा का 5 बार पाठ करें।’’

प्रज्ञा ने कहा, ‘‘पांच अगस्त को अनुष्ठान का रामलला की आरती के साथ घरों में दीप जलाकर समापन करें।’’ श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के एक पदाधिकारी ने हाल ही में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास समारोह में भाग लेंगे।

इससे पहले मध्यप्रदेश के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने भी कोरोना को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया था। शर्मा ने कहा था कि राम मंदिर का निर्माण शुरू होने के बाद कोरोना ठीक हो जाएगा। रामेश्वर शर्मा ने कहा, ‘राम ने मनुष्य के कल्याण और उस समय दैत्यों के संहार के लिए अवतार लिया था। जैसे ही राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा कोरोना महामारी का भी विनाश हो जाएगा।’

मालूम हो कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन होना है। इससे पहले उत्तर प्रदेश में संभल से सपा सांसद शफीकुर रहमान बर्क ने कहा था कि मस्जिदों में नमाज पढ़ने से ही कोरोना भागेगा। बर्क का कहना था कि अगर इस महमारी से निजात पानी है तो मस्जिदों में नमाज पढ़ने की इजाजत देना चाहिए। बर्क ईद उल जुहा पर मस्जिदों में नमाज पढ़ने की इजाजत देने की वकालत कर रहे थे।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट