ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद केसी पटेल मामले में महिला के पिता और भाई हिरासत में

सांसद डॉ. केसी पटेल हनीट्रैप मामले में मुजफ्फरनगर में छापों के बाद दिल्ली पुलिस ने आरोपी महिला के पिता और भाई को भी हिरासत में ले लिया है।
Author मुजफ्फरनगर | May 6, 2017 01:09 am
गुजरात के वलसाद से सांसद केसी पटेल।

सांसद डॉ. केसी पटेल हनीट्रैप मामले में मुजफ्फरनगर में छापों के बाद दिल्ली पुलिस ने आरोपी महिला के पिता और भाई को भी हिरासत में ले लिया है। मुजफ्फरनगर में गुरुवार को हुए हाई प्रोफाइल मामले में युवती को लेकर उसके घर पहुंची दिल्ली पुलिस, ने बंद कमरे में परिजनों से घंटों पूछताछ की थी। गुरुवार को मुजफ्फरनगर पहुंची दिल्ली पुलिस ने कई स्थानों पर पूछताछ की थी। पुलिस जांच टीम को आशंका है कि महिला के कुछ शिकार मुजफ्फरनगर के नेता और उद्योगपति व चिकित्सक भी फंसे हो सकते हैं। हालांकि जांच टीम ने इस संबंध में अभी किसी पुष्टि से इनकार किया है।

आरोपी महिला लोकसभा की वेबसाइट से सांसदों और मंत्रियों के नंबर लेती थी। उनसे बातचीत करती थी। इसके बाद चाय नाश्ते के नाते नजदीकी बढ़ाती थी। फिर सांसदों के यहां आना जाना और बात शराब तक पहुंच जाती थी। इसके बाद जब भी मौका मिलता था तो महिला सांसदों के अश्लील फोटो ले लेती थी। इसके बाद उन्हें मोटी रकम के लिए ब्लैकमेल करती थी। कई सांसदों से वह मोटी रकम वसूल चुकी है। हनी ट्रैप मामले में गिरफ्तार महिला को बीते बुधवार को दिल्ली पुलिस इंदिरापुरम में उसके फ्लैट में लेकर गई थी। घर की छानबीन में पुलिस को कई अहम सबूत मिले थे। बाद मे हनीट्रैप मामले में मुजफ्फरनगर में छापे मारे गए।

पुलिस ने महिला के शैक्षिक प्रमाण पत्रों की भी छानबीन की, जिसमें पाया गया है कि उसके मूल रूप से गांव बसेडा थाना छपार की रहने वाली है और उसने बसेडा के जैन गर्ल्स इंटर कॉलेज से दसवीं और बारहवीं की परीक्षा पास की है। पुलिस ने दसवीं के शैक्षिक प्रमाण पत्र कब्जे में ले लिए, लेकिन इंटर का कोई दस्तावेज पुलिस के हाथ नहीं लग सका। पुलिस को डीएवी कालेज मुजफ्फरनगर से एलएलबी किया हुआ प्रमाण पत्र भी बरामद हुआ, लेकिन एलएलएम की कोई डिग्री नहीं मिल सकी। आरोपी युवती ने पूछताछ में खुद को एलएलएम डिग्रीधारक बताया था। पुलिस ने युवती के सभी शैक्षिक प्रमाण पत्र, स्कूल की ग्रुप फोटो व अन्य फोटो समेत अनेक महत्वपूर्ण दस्तावेज अपने कब्जे में लिए। दिल्ली पुलिस की टीम ने युवती के परिजनों से डेढ़ घंटा बंद कमरे में बातचीत की थी। पुलिस को युवती के पिता सुरेश पाल ने बताया कि उनका परिवार दस वर्ष पूर्व गांव बसेडा से आकर खांजापुर में बस गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.