ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद जुगल किशोर का विवदित बयान- अगर नरेंद्र मोदी चाहते तो जेल में होतीं मायावती, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया

जुगल किशोर कभी मायावती के करीबी हुआ करते थे।

उत्तर प्रदेश के गोण्डा जनपद के जिला सभागार में रविवार 17 सितम्बर को सांसद प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। बीजेपी के राजसभा सांसद जुगल किशोर भी इस कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए जहां बसपा सुप्रीमो मायावती पर जमकर निशाना साधा वहीं विवादित बयान भी दे गए। जुगल किशोर ने बसपा सुप्रीमो मायावती के ऊपर लगातार लग रहे भ्रष्टाचार के आरोप पर कहा कि यदि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते तो मायावती कब की जेल पहुंच गई होतीं, लेकिन वो ऐसा नहीं करना चाहते। राज्यसभा सांसद ‘मायावती के भ्रष्टाचार ‘ पर सभा को संबोधित कर रहे थे।

जुगल किशोर ने मायावती और बसपा से बर्खास्त नेता नसीमुद्दी सिद्दकी का जिक्र करते हुए कहा कि मायावती का आरोप है नसीमुद्दी उनका 50 करोड़ रुपए लेकर चले गए, पर मैं यह पूछता चाहता हूं कि यह 50 करोड़ रुपए उनके पास आए कहां से। उन्होंने आगे कहा कि मायावती की जेब से कोई भी एक पैसा लेके नहीं जा सकता। यदि मान भी लिया जाए कि नसीमुद्दी सिद्दकी मायावती का 50 करोड़ रुपए ले भी गए होंगे, तो यह जरूर तय है कि यह पैसा वसूली का होगा, जिसे सिद्दकी ले गए होंगे।

भाजपा से राज्यसभा सांसद किशोर ने आगे कहा कि यदि केंद्र सरकार चाहती तो इसी पैसे के चक्कर में मायावती को जेल हो सकती थी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ऐसा नहीं करना चाहते।

आपको बता दें कि जुगल किशोर कभी मायावती के करीबी हुआ करते थे। लेकिन, उन्हें बसपा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते निष्कासित कर दिया था। उसके बाद जुगल किशोर भाजपा के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी और प्रदेश प्रभारी ओम माथुर की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो गए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 असम में रोहिंग्या मुसलमानों का समर्थन करने पर बीजेपी ने महिला नेता को पार्टी से निकाला
2 जम्मू कश्मीर के डिप्टी सीएम की पाकिस्तान को चेतावनी- अगर फायरिंग की, तो हमारी बंदूकें नहीं रुकेंगी
3 हनीप्रीत के नेपाल में होने के संकेत, डेरा सच्चा सौदा उदयपुर का इंचार्ज हिरासत में
ये पढ़ा क्या?
X