ताज़ा खबर
 

वीडियो: रेलवे ब्रिज के उद्घाटन में मंच पर बैठने को लेकर भिड़ गए बीजेपी सांसद

मेहमानों की लिस्ट में नाम ना होने से नाराज भाजपा सांसद प्रभाकर कोरे ने मंच पर जाने से इंकार कर दिया। इस पर भाजपा सांसद सुरेश अंगदी उन्हें मंच पर ले चलने के लिए उनके पास आए थे।

भाजपा लोकसभा सांसद सुरेश अंगदी और भाजपा राज्यसभा सांसद प्रभाकर कोरे। (image source-PTI/Facebook-Prabhakar B Kore)

कर्नाटक के बेलगावी में एक रेलवे ब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम में मंच पर बैठने को लेकर भाजपा के दो सांसद आपस में भिड़ गए। दरअसल इस पूरे विवाद की शुरुआत मेहमानों की लिस्ट में एक सांसद का नाम शामिल ना होने के चलते हुई। सांसद मेहमानों की लिस्ट में नाम ना होने के कारण मंच पर बैठने को तैयार नहीं थे, जबकि दूसरे सांसद उन्हें मंच पर चलने को कह रहे थे। इसी को लेकर दोनों के बीच गरमा-गरम बहस हो गई। हालांकि कुछ ही देर में दोनों ने मामला सुलझा लिया। न्यूज 18 की एक खबर के अनुसार, भाजपा के लोकसभा सांसद सुरेश अंगदी और भाजपा के ही राज्यसभा सांसद प्रभाकर कोरे बेलगावी में रेलवे ब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल हुए थे। जब प्रभाकर कोरे कार्यक्रम में पहुंचे तो उनका नाम मेहमानों की लिस्ट में ही शामिल नहीं था।

इस पर प्रभाकर कोरे स्टेज पर जाने के बजाए सामने लगीं कुर्सियों पर ही बैठ गए। इस पर भाजपा सांसद सुरेश अंगदी स्टेज से उतरकर, कोरे के पास आए और उन्हें स्टेज पर चलने को कहा। प्रभाकर कोरे ने स्टेज पर यह कहकर जाने से इंकार कर दिया कि उनका नाम मेहमानों की लिस्ट में नहीं है, इसलिए वह स्टेज पर नहीं जाएंगे। जब बार-बार कहने के बावजूद प्रभाकर कोरे स्टेज पर नहीं गए तो इससे सुरेश अंगदी नाराज हो गए। सुरेश अंगदी ने नाराज होते हुए कहा कि “एक बुजुर्ग होते हुए आप इस तरह से बात करते हैं? क्या आपमें कॉमन सेंस नहीं है?”

अंगदी के इतना कहने पर प्रभाकर कोरे भी गुस्सा हो गए और उन्होंने कहा कि “दादागिरी मत करो और मुझे कॉमन सेंस भी मत सिखाओ।” हालांकि कुछ ही मिनट की बहस के बाद मामला शांत हो गया। दरअसल सुरेश अंगदी ने प्रभाकर कोरे को खींचकर हाथ से उठा लिया और स्टेज की तरफ ले जाने लगे। सुरेश अंगदी के ऐसा करने पर प्रभाकर कोरे भी मुस्कुरा दिए। इसके बाद कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने तालियां बजाकर दोनों का उत्साह बढ़ाया। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें दोनों सांसद बहस करते दिखाई दे रहे हैं। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि घटना के वक्त प्रभाकर कोरे के साथ कर्नाटक सरकार में मंत्री सतीश जारकीहोली भी बैठे हुए थे, जो दोनों नेताओं की बहस के दौरान मुस्कुराते दिखाई दिए।

Next Stories
1 सर्पदंश से ‘मौत’ और अंतिम संस्कार के 16 महीने बाद फिर जिंदा लौटा युवक, सपेरों ने किया बड़ा दावा
2 Haryana: झज्जर में खुलेगा देश का सबसे बड़ा कैंसर अस्पताल, 2035 करोड़ है लागत
3 प्‍लैटफॉर्म पर मुंबई पुलिस ने कराई महिला की डिलीवरी, साथियों ने थामे रखी चादर
यह पढ़ा क्या?
X