scorecardresearch

पश्चिम बंगालः कोलकाता के पास भाजपा और टीएमसी समर्थकों में झड़प, सांसद अर्जुन सिंह पर फेंके गए पत्थर

West Bengal: भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने टीएमसी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसके समर्थकों ने उनपर हमला किया है।

bjp mp arjun singh
भाजपा सांसद अर्जुन सिंह पर हमला (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट @amitmalviya)

पश्चिम बंगाल में भाजपा और टीएमसी के समर्थकों के बीच फिर से झड़प होने की खबर है। भाजपा सांसद अर्जुन सिंह पर पत्थर फेंके जाने की बात सामने आई है।

मिली जानकारी के अनुसार पश्चिम बंगाल के भाटपारा में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों के बीच हाथापाई हो गई। उत्तर 24 परगना जिले में हुई इस झड़प में एक पुलिस वाहन सहित दो कारों में तोड़फोड़ की गई। पुलिस ने कहा कि भाजपा सांसद अर्जुन सिंह सुरक्षित हैं और उन्हें उनके आवास पर भेज दिया गया है।

अर्जुन सिंह बंगाल के बैरकपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं। वे नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देने वहां पहुंचे थे। उन्होंने आरोप लगाया है कि जब वो वहां पहुंचे तो टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हंगामा करना शुरू कर दिया, जिसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। इस तीखी नोकझोंक के दौरान टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर सांसद पर हमला किया और उनके वाहन में तोड़फोड़ की।

इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसे खुद भाजपा सांसद ने ट्वीट किया है। सांसद अर्जुन सिंह ने ट्वीट कर कहा- “आज सुबह, कांकिनारा में टीएमसी के गुंडों ने मुझ पर हमला किया, जब मैं नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर एक कार्यक्रम के लिए पहुंचा था। टीएमसी अपनी गंदी राजनीति से बीजेपी नेताओं को हटाना चाहती है ताकि लोग उनकी ‘गुंडागिरी’ से डरें। मुझे रोकना संभव नहीं”।

बीजेपी आईटी सेल हेड अमित मालवीय ने भी इससे संबंधित एक वीडियो ट्वीट किया है। उन्होंने यह वीडियो शेयर करते हुए कहा है कि ममता बनर्जी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल कानूनविहीन हो गया है।

हालांकि ऐसा पहली बार नहीं है जब बीजेपी और टीएमसी समर्थकों के बीच झड़प देखने को मिली हो, या बीजेपी नेताओं ने टीएमसी पर मारपीट करने का आरोप लगाया हो। दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर ऐसा आरोप लगाती रही हैं। पिछले चुनाव के समय ऐसे मामलों में काफी वृद्धि भी देखने को मिली थी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट