ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद ने कहा- भारत पाकिस्तान में कराए उरी-जैसा हमला, तब उसे अहसास होगा

बीजेपी सांसद ने कहा, "पाकिस्तान ऐसी हरकतें भविष्य में भी करता रहेगा। वो तब तक नहीं रुकेगा जब तक हम पलटवार नहीं करेंगे और उसे भी चोट नहीं पहुंचाएंगे।

उरी में मारे गए सैनिकों की याद कैंडिल मार्च निकालते लोग। (Express photo by Jasbir Malhi)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद और पूर्व केंद्रीय गृह सचिव आरके सिंह ने मंगलवार (20 सितंबर) को पाकिस्तान में उरी-जैसा हमला कराने की पैरवी की। सिंह ने कहा, “पाकिस्तान तब तक नहीं रुकेगा जब तक भारत उसी के जैसा जवाब नहीं देगा।” सिंह ने कहा कि पाकिस्तान खुले तौर पर कह चुका है कि वो भारत के खिलाफ “हजार घाव देकर जान लेने” की रणनीति पर चल रहा है और ये लम्बे समय से जारी है।

सिंह ने पत्रकारों से कहा, “पाकिस्तान ऐसी हरकतें भविष्य में भी करता रहेगा। वो तब तक नहीं रुकेगा जब तक हम पलटवार नहीं करेंगे और उसे भी चोट नहीं पहुंचाएंगे…भौतिक रूप से वहां पहुंचकर…तब उन्हें अहसास होगा और वो थम जाएंगे।” बिहार से सांसद आरके सिंह का बयान रविवार (18 सितंबर) को जम्मू-कश्मीर के उरी में हुए आंतकी हमले के बाद आया जिसमें 18 भारतीय जवान शहीद हो गए और 19 अन्य घायल हो गए। भारतीय सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में चारों आतंकी मारे गए। भारतीय सेना के अधिकारियों के अनुसार चारों आतंकवादी पाकिस्तान से घुसपैठ करके आए थे। हालांकि पाकिस्तान ने इससे इनकार किया है।

उरी हमले के बाद से ही भारत सरकार पर जवाबी कार्रवाई करने के दबाव है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि उरी हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। पीएम मोदी ने अपने मंत्रालय के वरिष्ठ सहयोगियों, वरिष्ठ खुफिया अधिकारियों और सैन्य अधिकारियों के संग इस मसले पर सोमवार को उच्च स्तरीय बैठक की। प्रधानमंत्री निवास, 7 रेसकोर्स रोड पर आयोजित बैठक में गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, वित्‍त मंत्री अरुण जेटली, राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, आर्मी चीफ जनरल दलबीर सिंह सुहाग समेत कई वरिष्‍ठ अधिकारी मौजूद रहे। सूत्रों के अनुसार सैन्य अधिकारियों ने पीएम को तत्काल सीधी जवाबी कार्रवाई न करने की सलाह दी है। बैठक में भारत ने पाकिस्‍तान को कूटनीतिक तौर पर अलग-थलग करने का फैसला किया है।

हालांकि उरी हमले के बाद से ही सोशल मीडिया पर जवाबी कार्रवाई न करने को लेकर पीएम मोदी पर कटाक्ष किया जा रहा है। कुछ लोग नरेंद्र मोदी के कुछ साल पुराने ट्वीट और वीडियो शेयर कर रहे हैं जिसमें उन्होंने पाकिस्तान द्वारा भारतीय सैनिकों का सिर काटने के बदले सिर काटने की बात कही थी।

Read Also: उरी शहीद के पिता ने पूछा- ये वही सरकार है जो सिर के बदले सिर काट लाने की बात करती थी?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App