ताज़ा खबर
 

छत्‍तीसगढ़ में बागी हुआ भाजपा का विधायक, मंच पर ही प्रदेश अध्‍यक्ष को दी देख लेने की धमकी

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल और बिल्‍हा के विधायक सियाराम में नारियल फोड़ने को लेकर झगड़ा हुआ। विधानसभा के पथरिया ब्लॉक के किरना गांव में लोक सुराज अभियान के तहत समाधान शिविर लगाया गया। इसमें दोनों नेता अलग-अलग पहुंचे थे।
Author नई दिल्ली | March 23, 2018 19:05 pm
छत्तीसगढ़ बीजेपी अध्यक्ष धरमलाल समर्थकों के साथ। (फाइल फोटो)

छत्‍तीसगढ़ में शुक्रवार (23 जनवरी) को भाजपा के लिए अच्‍छी खबर आई, लेकिन राज्‍य में पार्टी के लिए सब कुछ शुभ नहीं है। 23 जनवरी को राज्‍यसभा चुनाव में भाजपा की उम्‍मीदवार सरोज पांडेय की जीत जहां पार्टी के लिए अच्‍छी खबर रही, वहीं एक दिन पहले प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष और विधायक की हरकतों से पार्टी को शर्मसार होना पड़ा था। पथरिया में एक कार्यक्रम में दोनों नेता मंच पर ही भिड़ गए थे और एक-दूसरे को देख लेने की धमकी तक दी थी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल और बिल्‍हा के विधायक सियाराम में नारियल फोड़ने को लेकर झगड़ा हुआ। विधानसभा के पथरिया ब्लॉक के किरना गांव में लोक सुराज अभियान के तहत समाधान शिविर लगाया गया। इसमें दोनों नेता अलग-अलग पहुंचे। दोपहर करीब 2 बजे विधायक सियाराम कौशिक पहुंचे। उन्‍होंने नारियल फोड़ा और लोगों को संबोधित करना शुरू किया। उन्‍होंने अपने भाषण में भाजपा सरकार पर ही निशना साधा। वैसे हर साल नारियल फोड़ने की रस्‍म धरमलाल निभाते थे। करीब 3:30 बजे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक अपने समर्थक कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे। धरमलाल यहां से विधायक भी रह चुके हैं। उन्‍होंने सियाराम को भाजपा के खिलाफ बोलते सुना तो भड़कते हुए कहा कि यह शिविर में कैसे आ गए। इसके बाद दोनों में कहासुनी शुरू हो गई। कार्यर्क्ताओं और सुरक्षाकर्मियों ने दोनों को शांत कराया।

माना जा  रहा है कि छत्‍तीसगढ़ भाजपा में अंदरूनी गुटबाजी है और इसी का नतीजा है कि मौजूदा विधायक सियाराम बगावती तेवर दिखाते हुए सरकार के खिलाफ भाषण दे रहे थे। राज्‍य में कुछ ही महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। रमन सिंह पिछले कई बार से भाजपा को चुनाव जिताते आ रहे हैं। लेकिन, गुटबाजी से भाजपा को नुकसान हो सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App