ताज़ा खबर
 

बीजेपी MLA बोले- बहुत से शहरों का बदलना है नाम, मुगलों ने संस्‍कृति मिटाने का किया काम

भाजपा विधायक ने कहा कि "मुजफ्फरनगर नाम एक नवाब मुजफ्फर अली ने किया था। लोगों की सदियों से डिमांड है कि इसका नाम लक्ष्मीनगर किया जाए।"

भाजपा विधायक संगीत सोम। (image source-ANI)

भाजपा के शासनकाल में जिस एक बात की काफी चर्चा है, वो है शहरों के मुगलकालीन नाम बदलने की। हाल ही में उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया है। उससे पहले योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया था। नाम बदलने की इस नीति का कुछ लोगों ने समर्थन किया हैं, वहीं एक तबका ऐसा भी है, जो इसके खिलाफ है। लेकिन कुछ भाजपा नेता सरकार द्वारा शहरों के नाम बदलने की इस नीति का खुलकर समर्थन कर रहे हैं। भाजपा विधायक संगीत सोम ने भी इसका जोरदार समर्थन किया है और अपने एक बयान में कहा है कि “अभी तो बहुत शहरों के नाम बदले जाने हैं। मुजफ्फरनगर का नाम बदला जाना है। मुजफ्फरनगर का नाम लक्ष्मीनगर, लोगों की पहले से मांग है।”

भाजपा विधायक ने कहा कि “मुजफ्फरनगर नाम एक नवाब मुजफ्फर अली ने किया था। लोगों की सदियों से डिमांड है कि इसका नाम लक्ष्मीनगर किया जाए।” संगीत सोम ने आगे कहा कि “मुगलों ने यहां की संस्कृति को मिटाने का काम किया है। खासतौर से हिंदुत्व को मिटाने का काम किया है। हम लोग उस संस्कृति को बचाने के लिए काम कर रहे हैं। भाजपा उसपर आगे बढ़ेगी।” बता दें कि संगीत सोम मुजफ्फरनगर के सरधना से विधायक हैं और हिंदुत्ववादी नेता के तौर पर पहचान रखते हैं। मुजफ्फरनगर में हुए दंगों के दौरान भी संगीत सोम पर कई आरोप लगे थे।

उल्लेखनीय है कि भाजपा सरकार ने कुछ समय पहले मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन कर दिया था। अब महाराष्ट्र में शिवसेना ने भी कुछ शहरों के मुगलकालीन नाम बदलने की मांग की है। इनमें औरंगाबाद का नाम बदलकर संभाजीनगर और उस्मानाबाद का नाम बदलकर धारशिव रखने की मांग की गई है। देश के अन्य हिस्सों से भी भाजपा नेताओं द्वारा ऐसी ही मांगे की जा रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App