ताज़ा खबर
 

बेंगलुरु में धारदार हथियार से भाजपा पार्षद की हत्या

बेंगलुरु ग्रामीण जिले के अनेकल में एक भाजपा पार्षद की अज्ञात हमलावरों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी।

Author March 14, 2017 12:49 PM
भाजपा पार्षद की अज्ञात हमलावरों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी। (photo source – ANI)

बेंगलुरु ग्रामीण जिले के अनेकल में एक भाजपा पार्षद की अज्ञात हमलावरों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी। बेंगलुरु ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक विनीत सिंह ने पीटीआई भाषा को फोन पर बताया, ‘‘ किथागनहल्ली वासु के नाम से चर्चित भाजपा पार्षद एवं दलित नेता श्रीनिवास प्रसाद की आज सुबह करीब पांच बजे धारदार हथियारों से हत्या कर दी गयी ।’’विनीत ने हत्या के पीछे के कारणों पर कहा, ‘‘ अभी इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। हम मामले की जांच कर रहे हैं। ’’

बेंगलुरु में पिछले साल 16 अक्तूबर को भी एक आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या कर दी गयी थी जिसके बाद भाजपा और आरएसएस कार्यकर्ताओं ने बड़े पैमाने पर राज्य में विरोध प्रदर्शन किया था। मामले पर प्रतिक्रिया देते हुये कर्नाटक में आरएसएस के मीडिया समन्वयक राजेश पदमार ने कहा कि राज्य सरकार को इस तरह की राजनीतिक रूप से प्रेरित हत्याएं रोकने के लिये कड़े कदम उठाने चाहिये। उन्होंने मामले की तत्काल और निष्पक्ष जांच की मांग भी की।

HOT DEALS
  • Micromax Vdeo 2 4G
    ₹ 4650 MRP ₹ 5499 -15%
    ₹465 Cashback
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41990 MRP ₹ 50810 -17%
    ₹6000 Cashback


राजेश पदमार ने कहा, ‘‘पिछले दो सालों में आरएसएस-विहिप-भाजपा के 10 से अधिक कार्यकर्ताओं की हत्या की गयी है। यह लोकतांत्रिक शासन में एक खतरनाक घटनाक्रम है। उन्होंने कहा कि मृतक मृदु भाषी व्यक्ति थे जिनका कोई अपराधिक रिकॉर्ड नहीं था।

हाल के दिनों में केरल में भी कुछ इसी तरह की राजनीतिक हत्याओं के मामले देखने में आ रहे थे। पिछले कुछ वक्त में यहां बीजेपी और लेफ्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं की भिड़ंत और हत्या के कई मामले आ चुके हैं। हाल ही में कन्नूर मंडल के बीजेपी उपाध्यक्ष सुशील की हत्या का मामला सनसनीखेज रूप में सामने आया था।

अज्ञात लोगों ने कांग्रेस नेता की हत्या की; CCTV फुटेज आई सामने

केरल: मॉरल पुलिसिंग से प्रताड़ित युवक ने की आत्महत्या, वेलेंटाइन डे के दिन की गई थी मारपीट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App