ताज़ा खबर
 

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष बने विजय सिन्हा, प्रोटेम स्पीकर से बोले तेजस्वी बोले-अब आपके आसन के सामने चोरी हो रही है

नीतीश ने कहा कि अध्यक्ष की भूमिका निष्पक्ष होती है। ऐसे में आपको सत्ता पक्ष और विपक्ष सभी की बातों को सुनकर और जो भी नियम है उनके मुताबिक कार्यों का संचालन करना है। आपके पास अनुभव है और आप मंत्री भी रहे हैं।

bihar vidhan sabha, speaker post, vijay sinha, CM nitish kumar, RJDबिहार विधानसभा के स्पीकर विजय सिन्हा (बाएं)और राजद नेता तेजस्वी यादव। (फाइल फोटो)

एनडीए उम्मीदवार विजय सिन्हा बिहार विधानभा के स्पीकर निर्वाचित हुए। विजय सिन्हा ने महागठबंधन के उम्मीदवार अवध बिहार चौधरी को हराया। विजय सिन्हा के पक्ष में 126 वोट पड़े। स्पीकर चुने जाने पर सीएम नीतीश कुमार के साथ ही उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी ने उन्हें बधाई दी।

राजद नेता तेजस्वी यादव ने भी उन्हें धन्यवाद दिया। तेजस्वी यादव ने कहा कि हम सब बिहार के हित के लिए यहां चुनकर आए हैं। हम सबको मिलकर चलाएंगे और विपक्ष अलग नहीं है। स्पीकर चुने जाने पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि नवनिर्विचित अध्यक्ष महोदय को अध्यक्ष पद के निर्वाचन के लिए बधाई देता हूं, साथ ही सभी माननीय सदस्यों को विषेष रूप से बधाई देता हूं। नीतीश ने कहा कि अध्यक्ष की भूमिका निष्पक्ष होती है।

सीएम ने कहा कि ऐसे में आपको सत्ता पक्ष और विपक्ष सभी की बातों को सुनकर और जो भी नियम है उनके मुताबिक कार्यों का संचालन करना है। आपके पास अनुभव है और मंत्री भी रहे हैं। ऐसे में हम सबको पूरी उम्मीद है कि एक विधानसभा अध्यक्ष के रूप में आप अपनी भूमिका को बहुत ही बेहतरीन ढंग से निभाएंगे। यही हम सब लोगों की अपेक्षा है।

मालूम हो कि विजय सिन्हा इस बार लखीसराय से विधायक चुने गए हैं। सिन्हा पिछली सरकार में श्रम संसाधन मंत्री थे। विजय सिन्हा ने सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा हासिल किया है। इससे पहले स्पीकर के चुनाव के दौरान राजद समेत विपक्षी दलों के सदस्यों ने हंगामा किया। राजद नेता तेजस्वी यादव ने वोटिंग प्रक्रिया को लेकर नाराजगी व्यक्त की।

तेजस्वी यादव ने कहा कि पहले जनादेश की चोरी हुई…ये तो आपके सामने आसन के सामने चोरी हो रही है। राजद नेता ने कहा कि महोदय सदन को नियमावली के हिसाब से चलना चाहिए। पूरा देश इसको देख रहा है। दरअसल, राजद स्पीकर पद के लिए गुप्त मतदान की मांग कर रहा था। प्रोटेम स्पीकर जीतन राम मांझी ने विपक्ष की इस मांग को खारिज कर दिया।

इससे पहले राजद ने मुख्यमंत्री के सदन में उपस्थित रहने पर सवाल उठाए थे। इस पर प्रोटेम स्पीकर ने कहा कि सीएम का वोटिंग से कुछ लेना देना नहीं लेकिन वह सदन में मौजूद रह सकते हैं। राजद नेता मनोज झा ने कहा कि सदन में लोकतंत्र की हत्या की गई। जो लोग सदन के सदस्य नहीं थे वह भी सदन में बैठे हुए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली के श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार के लिए नहीं मिल रही जगह? वीडियो में हाथ जोड़ मिन्नते कर रहे दिखे लोग; SGPC के मनजिंदर ने केजरीवाल को घेरा
2 दिल्ली में कोरोना से हाहाकार, लगातार 5वें दिन 100 से अधिक लोगों की मौत; पिछले 24 घंटे में 6624 केस
3 बंगाल में गुंडा राज…पुलिस नहीं कर रही मदद, सरकार बनी तो उन्हें जूते चाटने को मजबूर कर देंगे, बोले भाजपा उपाध्यक्ष
ये पढ़ा क्या?
X