scorecardresearch

अपनी नाकामी दूसरे के कंधे पर डाल रहे, उदयपुर मामले में सीएम गहलोत ने पीएम मोदी से की देश को संबोधित करने की मांग तो बिफरीं वसुंधरा

Udaipur Kanhaiya Lal Murder Case: राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि राज्य में शासन नहीं है, बस राजनीति है, इसलिए सीएम (अशोक गहलोत) दिल्ली जाते हैं और वहां राहुल गांधी का बचाव करते हैं। हत्यारोपी पीएम मोदी का नाम ले रहे थे।

Udaipur murder case | Vasundhara Raje | CM Gehlot
सीएम अशोक गहलोत पर बिफरीं राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे। (फोटो सोर्स:@AHindinews)।

राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार ( 28 जून, 2022) को टेलर कन्हैया लाल की हत्या को लेकर अब राजनीति शुरू हो चुकी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी से देश को संबोधित करने की मांग की तो वसुंधरा राजे सिंधिया बिफर गईं। उन्होंने कहा कि अपने कंधों पर तो लेना नहीं है, उसकी बजाए पूरी समस्या किसी दूसरे के कंधों पर डाल दीजिए।

उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या को लेकर राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा है कि चिंता की बात है। इस प्रकार से किसी की हत्या कर देना दुखद और शर्मनाक है। माहौल ठीक करने की जरूरत है। पूरे देश में तनाव का माहौल बन गया है। मैं बार-बार PM और गृह मंत्री को बोलता हूं कि देश को संबोधित करें।

अशोक गहलोत के इसी बयान पर पलटवार करते हुए राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा, ‘एक रास्ता है कि सरकार सक्रिय हो और दूसरा रास्ता है कि बहाना बनाया जाए। अपने कंधों पर तो लेना नहीं है उसकी बजाए पूरी समस्या किसी दूसरे के कंधों पर डाल दीजिए, वही अशोक गहलोत कर रहे हैं।’

वसुंधरा राजे ने कहा कि ये मामूली घटना नहीं है, ये एक तरह से आतंकवाद है। इसकी जितनी भर्त्सना करेंगे वो कम ही रहेगा। सांप्रदायिक उन्माद के पीछे कौन लोग हैं? कौन से संगठन हैं? ऐसी चीजें राजस्थान में कभी नहीं हुईं।

राजस्थान की पूर्व सीएम ने आगे कहा कि राज्य में शासन नहीं है, बस राजनीति है, इसलिए सीएम (अशोक गहलोत) दिल्ली जाते हैं और वहां राहुल गांधी का बचाव करते हैं। हत्यारोपी पीएम मोदी का नाम ले रहे थे। किसी राज्य सरकार का इतना ढीला शासन न हो कि लोग इस तरह बोल सकें। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं (उदयपुर हत्या) के दौरान, सरकारें दो तरह से प्रतिक्रिया कर सकती हैं, पहला सक्रिय होना, कारणों को समझना और ऐसी घटनाओं को रोकना। यानी विश्वास और सद्भाव का माहौल बनाने के साथ-साथ प्रशासन के साथ मिलकर काम किया जाए।

राजे ने कहा कि दूसरा बहाना बनाना और यही सीएम गहलोत कर रहे हैं। वे जिम्मेदारी नहीं ले रहे हैं और दूसरों को दोष दे रहे हैं। यह कुशासन है, नकारात्मकता की राजनीति, तुष्टीकरण की राजनीति और राज्य में सत्तारूढ़ की ओर से संवेदनशीलता का पूर्ण अभाव है।

उदयपुर हत्याकांड में जान गंवाने वाले दर्जी कन्हैयालाल का बुधवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। कन्हैयालाल का शव निकलने के दौरान उनकी पत्नी ओर परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल दिखा। कन्हैयालाल साहू की पत्नी ने कहा, ‘आरोपियों को फांसी दो, आज उसने हमें मारा है, कल दूसरों को मारेगा।’

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X