ताज़ा खबर
 

शाजिया इल्‍मी का आरोप- आप समर्थक कर रहे गंदी टिप्‍पणियां, दर्ज कराएंगी एफआईआर

भाजपा नेता शाजिया इल्‍मी ने आप समर्थकों पर गंदी टिप्पणियां करने का आरोप लगाया है।

shazia ilmi, shazia ilmi FIR, shazia ilmi BJP, AAP, arvind kejriwal, shazia ilmi filthy remark, aam aadmi party, delhi BJP, shazia ilmi AAP, delhi newsAAP की पूर्व नेता शाजिया इल्‍मी की फाइल फोटो।

भाजपा नेता शाजिया इल्‍मी ने आप समर्थकों पर गंदी टिप्पणियां करने का आरोप लगाया है। इल्‍मी ने कहा कि वह इसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराएंगी। भाजपा नेता ने कहा कि उन पर गंदी टिप्‍पणियां करने वाले आप समर्थकों पर मंदिर मार्ग पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराएंगी। उन्‍होंने 17 अप्रैल को भी ट्वीट कर आप और अरविंद केजरीवाल पर हमला बोला था। उन्‍होंने लिखा था, ”अरविंद केजरीवाल को दिल्‍ली को साफ करने के प्रयास से पहले अपने गंदे कार्यकर्ताओं का कचरा साफ करना चाहिए।” इसके बाद उन्‍होंने एक वीडियो भी पोस्‍ट किया। इसके साथ लिखा था, ”#केजरीवाल_शर्म_करो पहले अपने पहले अपने घर के कचरे को तो साफ करो(संदीप कुमार)। दिल्ली बाद में साफ करना।”

इस वीडियो में उन्‍होंने कहा, ” वे हार भी रहे हैं और उनके प्रत्‍याशियों की जमानत भी जब्‍त हो रही है। सुबह जब मैंने कुकर्मी और बेशरम सिपाही और उनके खास प्रिय संदीप कुमार के बारे में ट्वीट करना शुरू किया। जिनको भाजपा के खिलाफ दुष्‍प्रचार करने के लिए दूत की तरह भेजा रहा है। उन्‍होंने घिनौनी और गंदी बात करना शुरू कर दिया मेरे खिलाफ। अभी तक 20 हजार के करीब ट्वीट बाहर आए हैं। इनमें संदीप कुमार और राशन कार्ड का जिक्र किया जा रहा है। उस गंदी बात को मेरे नाम से जोड़ना और मेरे बारे में कहना शोभा नहीं देता है। शायद अरविंद केजरीवाल समझ गए है कि 16 हजार रुपये की थाली भारी पड़ने वाली है।” उन्‍होंने पोस्‍ट के प्रिंट आउट दिखाते हुए कहा कि इनकी भाषा ऐसी है जिसे पढ़ा भी नहीं जा सकता।

बता दें कि केजरीवाल सरकार के पूर्व मंत्री संदीप कुमार को सेक्‍स सीडी सामने आने के बाद पद से हटा दिया गया था। वे महिला एवं बाल कल्‍याण मंत्री थे। उन पर आरोप है कि राशन कार्ड बनवाने के बदले उन्‍होंने महिला से संबंध बनाने की मांग की। यह सीडी सामने आने के बाद अरविंद केजरीवाल ने उन्‍हें मंत्री पद से निकाल दिया था। पिछले दिनों उन्‍होंने नरेला से भाजपा उम्‍मीदवार सविता खत्री के लिए वोट मांगे थे। इसके बाद आप ने भाजपा को निशाने पर लिया था। हालांकि बाद में भाजपा ने सविता खत्री को पार्टी से निकाल दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राजस्थान यूनिवर्सिटी पेपर लीक मामले में 11 आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेजा
2 योगी आदित्यनाथ ने ये साबित किया है कि नेतृत्व ईमानदार-कर्मठ हो तो जनहित के कार्य करने को बाध्य होते हैं नौकरशाह: भाजपा
3 यूपी: सीएम आदित्य नाथ ने किया 41 अफसरों का तबादला
यह पढ़ा क्या?
X