ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल: “कट मनी” पर ममता सरकार को ऐसे घेरेगी बीजेपी, भ्रष्ट टीएमसी नेताओं की बना रही है सूची

पश्चिम बंगाल में टीएमसी को घेरने के लिए भाजपा को नया हथियार मिल गया है। पार्टी ऐसे टीएमसी नेताओं की सूची तैयार कर रही है जिन्होंने सरकारी योजनाओं का फायदा दिलाने के लिए लोगों से गैरकानूनी ढंग से पैसे या कट मनी ली है।

भाजपा की हुगली जिले की सचिव सारनिका मंडल ने कहा कि पार्टी भ्रष्ट नेताओं की सूची बना रही है। (फोटोः पार्था पॉल)

पश्चिम बंगाल में भाजपा ने ममता बनर्जी सरकार को घेरने की नई योजना तैयार कर ही है। पार्टी की तरफ से ऐसे भ्रष्ट नेताओं की सूची बनाई जा रही है जिन्होंने लोगों को विभिन्न सरकारी योजनाओं का फायदा दिलाने की एवज में गैरकानूनी ढंग से कमीशन या कट मनी एकत्रित की थी। बर्धमान जिले के चनोक गांव में सुब्रत मंडल स्थानीय लोगों एक डिक्लेयरेशन फॉर्म भरवा रहे हैं।

इसमें लोगों की व्यक्तिगत जानकारी के साथ ही सरकारी योजना का फायदा लेने के लिए टीएमसी नेताओं को कथित रूप से दी गई ‘कट मनी’ की जानकारी भी शामिल है। सुब्रत मंडल यहां भाजपा की बूथ कमेटी के प्रमुख हैं। उन्होंने कहा, ‘हमने विभिन्न योजना को पर्चे छपवाएं हैं। इनमें से अधिकतर घर और शौचालय योजना से संबंधित हैं। अभी तक 180 लोगों ने यह फॉर्म भरा है। हम इन फॉर्म्स को शिकायत पत्र के साथ प्रशासन और पुलिस को भेजेंगे। हम लोगों के साथ हैं।’

इससे पहले 18 जून को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने पार्टी नेताओं से उस ‘कट मनी’ या गैरकानूनी ढंग से लिए गए पैसों को वापस करने को कहा था जो उन्होंने कथित रूप से लोगों से एकत्रित की थी। इसके बाद से बंगाल के ग्रामीण इलाकों में लोगों का गुस्सा भड़क गया था। स्थानीय लोगों टीएमसी के कई स्थानीय प्रतिनिधियों की पिटाई भी की। स्थानीय लोग अपने पैसे वापिस करने का लिखित रूप में वादा करने या टीएमसी प्रतिनिधियों को घर छोड़ कर जाने की बात कह रहे थे। इससे राज्य में भाजपा और टीएमसी के बीच जंग का एक और मोर्चा खुल गया था।

ममता बनर्जी की आह्वान के बाद टीएमसी के वरिष्ठ नेता ने भाजपा नेताओं पर हिंसा के जरिये अस्थिरता फैलाने का आरोप लगाया। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि कट मनी की ब्याज के साथ वापसी के लिए टीएमसी प्रतिनिधियों का घेराव किया जाएगा। इंडियन एक्सप्रेस ने हुगली, बर्धमान और बीरभूम जिले के 12 गांवों का दौरा किया। यहां पाया गया कि स्थानीय टीएमसी नेता भाग खड़े हुए हैं। यहा भाजपा स्थानीय लोगों के साथ खड़ी है।

लोगों से पार्टी के लेटरहेड के तहत ‘जन सुनवाई’ के लिए डिक्लेयरेशन फॉर्म भरवाए जा रहे हैं। भाजपा की हुगली जिले की सचिव सारनिका मंडल ने कहा कि हमने 32 लोगों की सूची तैयार की है जिन्होंने कहा है कि उन्होंने उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन के लिए टीएमसी नेताओं को कट मनी दी है। हमने इस संबंध में पुलिस स्टेशन और बीडीओ कार्यालय में शिकायत दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पश्चिम बंगाल: ‘जय श्रीराम’ नहीं बोलने पर पीटे गए 5 टीएमसी कार्यकर्ता, बीजेपी का घटना में हाथ होने से इनकार
2 जानवर के नाम पर फिर इंसान की हत्या, पीट-पीट कर मार डाला, पुलिस आई तो पर बड़ी देर से
3 Bihar News Today, 04 July 2019: आरजेडी MLA बोले- अगर तेजस्वी यादव ने इस्तीफा दिया तो उनके साथ 80 विधायक एक साथ देंगे इस्तीफा