scorecardresearch

वाराणसी में भाजपा ने अब नया ड्रामा क्रिएट किया है- ज्ञानवापी मामले को लेकर BJP पर भड़के गहलोत

सीएम गहलोत ने कहा कि सरकार गिराने वाले अब भागते फिर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा-आरएसएस लोकतंत्र का मुखौटा पहनकर राजनीति करते है।

Ashok Gehlot| rahul gandhi| ashok gehlot photo|
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फोटो : पीटीआई)

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी पर वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद के मुद्दे पर देश में तमाशा बनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भगवा पार्टी की नीतियां देश को बर्बाद करने वाली हैं। गहलोत ने मंगलवार (17 मई) को कांग्रेस सेवा दल की आजादी गौरव यात्रा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा को लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है।

बीजेपी देश में हिंसा और तनाव फैला रही: मुख्यमंत्री ने कहा, “बीजेपी के नेता लोकतंत्र का मुखौटा पहनकर राजनीति कर रहे हैं। इन लोगों की नीतियां, कार्यक्रम और सिद्धांत देश को बर्बाद करने वाले हैं।” अशोक गहलोत ने कहा कि बीजेपी वाले देश में हिंसा और तनाव फैला रहे हैं और एक भाई को दूसरे के खिलाफ खड़ा कर देंगे। सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि बीजेपी वाले देश में नए तमाशा शुरू कर देते हैं, कंट्रोवर्सी पैदा करेंगे और हिंदू-मुस्लिम को लड़ाते रहेंगे।

वाराणसी में नया ड्रामा: मुख्यमंत्री ने कहा कि इतना तमाशा हो रहा है देश में, फिर नया तमाशा शुरू कर देंगे। उन्होंने कहा, “अब वो वाराणसी में एक नया ड्रामा रचेंगे। इसकी शुरुआत कल से न्यूज चैनलों पर और सोशल मीडिया पर भी हो गई है।” उन्होंने कहा कि भाजपा-आरएसएस वाले सौ ऐसे जगह होंगे जहां विवाद पैद कर देंगे। सीएम ने कहा कि सदियों से हिंदू-मुस्लिम साथ रहते आए हैं। भाजपा-आरएसएस विवाद पैदा कराने में माहिर है।

सीएम गहलोत ने कहा कि यह देश को कमजोर करता है। यह ड्रामा ज्यादा दिन नहीं चलेगा। समय आने पर देश उन्हें जवाब देगा। अशोक गहलोत ने कहा कि करौली में हमने दंगे को कंट्रोल कर लिया। दंगा होने नहीं दिया। करौली, राजगढ़ और जोधपुर में दंगे नहीं होने दिए। यही हमारी कामयाबी है।

पूरा हुआ ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे: ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का काम पूरा हो गया है और कोर्ट ने दो दिन के भीतर रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया है। ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे के बाद हिंदू पक्ष के वकीलों ने दावा किया कि वहां शिवलिंग मिला है। जिसके बाद कोर्ट ने शिवलिंग के आसपास जाने पर रोक लगा दी है। साथ ही यहां वजू पर भी पाबंदी लगा दी गई है। ज्ञानवापी में अब सिर्फ 20 लोगों को नमाज पढ़ने की बात कही गई है। दूसरी ओर ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे करने वाले कमिश्नर अजय मिश्रा को हटा दिया गया है। उनके सहयोगी पर सर्वे की जानकारी लीक करने के आरोप लग रहे थे।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट