ताज़ा खबर
 

भाजपा नेता ने छत्रपति शिवाजी के बारे में कही ऐसी बात कि दो शहरों में भड़क गई हिंसा

बीजेपी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए कहा कि शिवाजी महाराज के खिलाफ इस तरह की बातें किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। इसके साथ ही बीजेपी ने अपने डिप्टी मेयर श्रीपाद छिंदम को पद से बर्खास्त कर दिया।

फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

महाराष्ट्र के अहमदनगर और पुणे में बीजेपी के डिप्टी मेयर द्वारा छत्रपति शिवाजी के लिए अपशब्द कहे जाने के बाद से तनाव का माहौल है। अहमदनगर के डिप्टी मेयर श्रीपाद छिंदम के इस बयान के बाद तमाम राजनीतिक संगठन सड़कों पर उतर आए। शुक्रवार दोपहर अहमदनगर में माहौल तब हिंसक हो उठा जब बीजेपी डिप्टी मेयर श्रीपाद छिंदम का एक ऑडियो टेप वायरल हुआ जिसमें वह एक निगम के कर्मचारी को डांटते हुए शिवाजी के बारे में अपमानजनक बातें कह रहे हैं। छिंदम को अहमदनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। भारतीय जनता पार्टी ने भी श्रीपाद छिंदम को डिप्टी मेयर के पद से बर्खास्त कर दिया है। ये घटना तब सामने आई है जब पूरे राज्य में शिवाजी जयंती की तैयारियां पूरे जोरों पर है। 19 फरवरी को मराठा राजा छत्रपति शिवाजी की जयंती है। अहमदनगर के साथ ही पुणे में भी बीजेपी नेता के इस बयान के बाद खूब हंगामा हुआ। पुणे से भी हिंसक प्रदर्शन की खबरें सामने आई हैं।

बताया जाता है कि श्रीपाद छिंदम ने अपने एक स्टाफ को फोन कर उससे कुछ अधूरे पड़े काम की जानकारी लेनी चाही। स्टाफ की बात सुनकर छिंदम भड़क गए और उसे फोन पर ही गालियां देने लगे। स्टाफ के साथ ही उन्होंने छत्रपति शिवाजी के लिए भी अपमानजनक बातें कह डाली। स्टाफ और छिंदम की बात का ये ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल होने लगा। ऑडियो वायरल होने के बाद लोग हिंसक हो गए और छिंदम के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शिवसेना के कार्यकर्ता अपने विधायक अनिल राठौड़ के नेतृत्व में छिंदम के इस्तीफे की मांग करते हुए उनके घर पर तोड़फोड़ भी की। सिर्फ श्रीपाद छिंदम के घर को ही नहीं बल्कि अहमदनगर के नगर निगम में उनके कार्यालय, दिल्ली गेट के उनके निजी कार्यालय और शहर में उनके होटल को भी प्रदर्शनकारियों ने अपना निशाना बनाया। शिवसेना ने छिंदम के खिलाफ अहमद नगर के तोपखाना पुलिस चौकी में एफआईआर भी दर्ज करवाई।

लोगों का गुस्सा सिर्फ छिंदम तक ही नहीं रहा। गुस्साई भीड़ ने स्थानीय भाजपा सांसद और जिला अध्यक्ष दिलीप गांधी और मंत्री राम शिंदे के कार्यालयों पर भी जमकर पत्थरबाजी की। बीजेपी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए कहा कि शिवाजी महाराज के खिलाफ इस तरह की बातें किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। इसके साथ ही बीजेपी ने अपने डिप्टी मेयर श्रीपाद छिंदम को पद से बर्खास्त कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App