ताज़ा खबर
 

गुजरात के उपचुनाव में कांग्रेस का सफाया, बीजेपी ने सभी 8 सीटों पर हासिल की जीत

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि उपचुनाव सिर्फ 2022 के आने वाले विधानसभा चुनाव का ट्रेलर हैं।

Gujarat ByElection, CM Vijay Rupaniगुजरात उपचुनाव में नतीजे पक्ष में आने के बाद गांधीनगर स्थित भाजपा मुख्यालय में जश्न मनाया गया। (एक्सप्रेस फोटो)

गुजरात में हुए उपचुनाव में भाजपा ने कांग्रेस को करारी शिकस्त देते हुए सभी 8 सीटों पर क्लीन स्वीप किया है। चुनाव आयोग ने सभी सीटों के नतीजे जारी कर दिए। इसके मुताबिक, भाजपा ने आसानी से जीत दर्ज की है। इन चुनावों में कुल 81 उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाई। पर अब्दासा, कर्जन, मोरबी, गधाड़ा, धारी, लिंबडी, कपराडा और दांग की सीटों पर भाजपा विजयी रही।

भाजपा के प्रद्युम्न सिंह जाडेजा उन पांच विजेता विधायकों में शामिल रहे, जिन्होंने कुछ समय पहले ही कांग्रेस छोड़कर भाजपा जॉइन की थी। जाडेजा ने कच्छ जिले की अब्दासा सीट से कांग्रेस के शांतिलाल संघानी को 36 हजार 778 वोटों के अंतर से हराया। जाडेजा को कुल 71 हजार 848 वोट मिले, जबकि संघानी 35 हजार 70 वोट ही हासिल कर पाए। कांग्रेस प्रत्याशी की हार का एक कारण निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हनीफ पदयार रहे, जिन्हें 26 हजार से ज्यादा वोट मिले। हनीफ पहले कांग्रेस में ही शामिल थे।

प्रद्युमनसिहं जाडेजा (अबडासा) के अलावा कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए ब्रजेश मेरजा (मोरबी), जेवी काकड़िया (धारी), अक्षय पटेल (करजण) और जीतू चौधरी (कपराडा) ने अपनी सीटों पर जीत हासिल की। इसके अलावा अन्य तीन सीटों पर भाजपा के उम्मीदवार पूर्व मंत्री आत्माराम परमार (गढडा), आठवीं बार पार्टी टिकट पर उतरे किरीट राणा (लिंबडी), और विजय पटेल (डांग) भी विजयी रहे।

गुजरात में चुनाव जीतने के साथ ही भाजपा के गांधीनगर स्थित मुख्यालय में जश्न मनाया गया। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, “उपचुनाव में भाजपा की बंपर बढ़त के बाद कहा कि यह दिखाता है कि हर वर्ग के लोगों ने हमारा समर्थन किया है। रुपाणी ने कहा कि उपचुनाव सिर्फ 2022 के आने वाले विधानसभा चुनाव का ट्रेलर हैं। रुपाणी ने हमले तेज करते हुए कहा कि उपचुनाव के नतीजे कांग्रेस के ताबूत में आखिरी कील का काम करेंगे। कांग्रेस एक डूबता हुआ जहाज है। उनका लोगों से संपर्क टूट गया है। हर तरफ नतीजा यही है। यह पार्टी बिना नेतृत्व की हो गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बीजेपी बनी बिग ब्रदर, एलजेपी ने काटे वोट, कांग्रेस अब भी कमजोर… बिहार चुनाव में सामने आए ये 10 नए समीकरण
2 कोलकाता में जलीं 60 झुग्गियां, भीषण आग से मची अफरातफरी, सीएम ममता बनर्जी ने किया दौरा
3 जानिए कैसे कांग्रेस के चलते बिगड़ा तेजस्वी यादव का खेल, अखिलेश यादव भी भुगत चुके हैं खामियाजा
ये पढ़ा क्या ?
X