ताज़ा खबर
 

दिल्ली बीजेपी में बगावती तेवर: विरोध के लिए पार्टी दफ्तर पर जुटे भाजपाई, मनोज तिवारी भी असंतुष्ट

दिल्ली में भाजपा सांसद डॉक्टर हर्ष वर्धन, मीनाक्षी लेखी, हंस राज हंस, गौतम गंभीर और प्रवेश साहिब सिंह के विकल्पों को शामिल किया गया है या फिर उन्हें ऐसे जिला अध्यक्ष मिले है जिनसे उन्हें कोई परेशानी नहीं है।

delhi bjp chiefदिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता। (पीटीआई)

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भाजपा ने 14 जिला अध्यक्षों और 250 मंडल अध्यक्षों के नामों को अंतिम रूप दे दिया है। ये सभी पार्टी की नई टीम का हिस्सा होंगे जो 2022 में नगर निगम चुनाव और पार्टी के विस्तार व मजबूती में मदद करेंगे। सूत्रों से पता चला है कि अधिकतर सांसद अपनी पसंद के जिला अध्यक्षों को नियुक्त कराने में कामयाब रहे। मगर पूर्व दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी और रमेश बिधूड़ी अपने-अपने संसदीय क्षेत्र में जिला अध्यक्षों की नियुक्ति से बहुत अधिक खुश नहीं है। राजधानी में सात संसदीय क्षेत्रों में से हर एक में दो जिला अध्यक्ष हैं और ये पार्टी को आगे बढ़ाने के प्रयासों में बड़ी भूमिका निभाते हैं। ये सांसद के बाद प्रमुख प्रतिनिधि के रूप में काम करते हैं।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि दक्षिणी दिल्ली के कुछ पार्टी कार्यकर्ता नए नियुक्ति पर अपनी चिंताएं जताने के लिए पंत मार्ग पर स्थित दिल्ली भाजपा के मुख्य कार्यालय के बाहर इकट्ठा हो गए। इनमें कुछ ने इस्तीफा तक देने की धमकी दी और नए पदाधिकारियों की मांग की। मामले में दिल्ली भाजपा प्रमुख आदेश गुप्ता ने कहा कि मैंने उन्हें आश्वासन दिया है कि उनकी चिंताओं पर गौर किया जाएगा। इतनी बड़े पैमाने पर नई नियुक्तियों पर यहां या वहां कुछ चिंताएं हो सकती है। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि ज्यादातर लोग खुश हैं।

Weather Forecast Today Live Updates

दिल्ली में भाजपा सांसद डॉक्टर हर्ष वर्धन, मीनाक्षी लेखी, हंस राज हंस, गौतम गंभीर और प्रवेश साहिब सिंह के विकल्पों को शामिल किया गया है या फिर उन्हें ऐसे जिला अध्यक्ष मिले है जिनसे उन्हें कोई परेशानी नहीं है। हालांकि कुछ मंडल अध्यक्षों के चयन से एक वर्ग निराश हुआ है। 250 मंडल (वार्ड) अध्यक्षों की पहली सूची में 80 फीसदी नए चेहरे हैं, जो पार्टी में चल रहे संगठनात्मक पुनर्गठन के हिस्से के रूप में चुने गए हैं।

दिल्ली में भाजपा की 280 वार्ड इकाईयां हैं। सूत्रों ने बताया कि कुछ सिख नेता नाखुश हैं क्योंकि मंडल स्तर पर सिर्फ तीन सिख नेताओं को चुना गया है। जिला स्तर पर किसी भी सिख को नहीं चुना गया। हालांकि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव आरपी सिंह का कहना है कि टीम के विस्तार का अभी भी इंतजार है और हमें उम्मीद है कि अधिक सिख चेहरे दिल्ली भाजपा टीम में शामिल किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मंडल टीम का और विस्तार किया जाएगा, खासकर तिलक नगर, हरि नगर, विष्णु गार्डन, जंगपुरा, शाहदरा जैसी सीटों पर।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गुजरात में भाजपा को झटका, कांग्रेस ने जीती 11 में से 8 सीटें; अमूल डेरी डायरेक्टर बोर्ड चुनाव में दबदबा
2 CAG रिपोर्ट में राजस्थान की खुली पोल, पीएम आवास योजना के तहत आधे घरों से गायब है शौचालय
3 महाराष्ट्र ने यात्रा, सरकारी कार्यालयों में हाजिरी पर पाबंदी में छूट दी
ये पढ़ा क्या?
X