ताज़ा खबर
 

कर्नाटक: दागी रेड्डी और बेटे पर हुए सवाल तो नाराज हो गए बीजेपी के सीएम फेस येदियुरप्पा

अमित शाह ने 31 मार्च को ही यह कह दिया था कि बीजेपी का जनार्दन रेड्डी से कोई लेनादेना नहीं है। इसके बाद रेड्डी ने बेल्लारी में अपने भाई के लिए चुनाव प्रचार करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट से इजाजत मांगी थी। कोर्ट ने रेड्डी की अपील को खारिज कर दिया था और कहा था कि रेड्डी न तो भाई के लिए प्रचार करेंगे और न ही वह वोट डालेंगे।

Karnataka Assembly Election Results 2018: कर्नाटक में बीजेपी के सीएम येदियुरप्पा (पीटीआई फोटो)

कर्नाटक में बीजेपी की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार येदियुरप्पा उस वक्त पत्रकारों से नाराज हो गए जब उनसे खनन माफिया जनार्दन रेड्डी और उनके बेटे विजयेंद्र के बारे में सवाल किया गया। रविवार को बैंगलुरु प्रेस क्लब में कांग्रेस नेता और राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की प्रेस कॉन्फ्रेंस के तुरंत बाद उसी क्लब में येदियुरप्पा ने पत्रकारों से बातचीत की। इस दौरान जब पत्रकारों ने उनसे जनार्दन रेड्डी को लेकर सवाल किया तब वे जमकर भड़क गए।

द न्यूज मिनट के मुताबिक येदियुरप्पा से कॉन्फ्रेंस के शुरुआत में रेड्डी के भाइयों सोमशेखर और करुणाकर को बीजेपी द्वारा विधानसभा का टिकट देने को लेकर सवाल किया गया था। इसके अलावा उनसे यह भी पूछा गया था कि जनार्दन रेड्डी बीजेपी के लिए क्यों प्रचार कर रहे थे। इन सवालों के जवाब में येदियुरप्पा ने कहा कि रेड्डी बंधु चुनाव जीतेंगे और यह भी कहा कि जनार्दन अपने दोस्त श्रीरामुलु के लिए प्रचार करके केवल उनकी मदद कर रहे थे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुछ समय बाद एक बार फिर पत्रकारों द्वारा जनार्दन को लेकर सवाल किया गया। एक पत्रकार ने येदियुरप्पा से पूछा कि क्या खनन माफिया जनार्दन रेड्डी को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और उनके विचारों में कोई भिन्नता है? साथ ही येदियुरप्पा से यह स्पष्ट करने के लिए कहा गया कि क्या जनार्दन रेड्डी अभी भी बीजेपी का हिस्सा हैं या नहीं? इन सवालों को सुनकर बीजेपी के सीएम उम्मीदवार नाराज हो गए और कहा, ‘जनार्दन रेड्डी बीजेपी का हिस्सा नहीं हैं।’

उन्होंने आगे कहा, ‘यह सच है कि मैंने एक बार जनार्दन से मुलाकात की थी, लेकिन अब जब कोर्ट का आदेश आ गया है हम इस तरह की कोई मीटिंग नहीं करने वाले। मैं भविष्य में अब बहुत संभल कर रहूंगा।’ बता दें कि 21 अप्रैल को एक पब्लिक मीटिंग के दौरान येदियुरप्पा और जनार्दन को एक साथ देखा गया था। जनार्दन बीजेपी के पूर्व मंत्री हैं और उनके ऊपर बेल्लारी में खनन घोटाले करने का आरोप लगा है।

बता दें कि अमित शाह ने 31 मार्च को ही यह कह दिया था कि बीजेपी का जनार्दन रेड्डी से कोई लेनादेना नहीं है। इसके बाद रेड्डी ने बेल्लारी में अपने भाई के लिए चुनाव प्रचार करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट से इजाजत मांगी थी। कोर्ट ने रेड्डी की अपील को खारिज कर दिया था और कहा था कि रेड्डी न तो भाई के लिए प्रचार करेंगे और न ही वह वोट डालेंगे। कॉन्फ्रेंस में जब पत्रकार ने यह पूछा कि क्या बीजेपी के लिए रेड्डी बंधुओं को चुनाव में उतारना जरूरी था, क्या बीजेपी रेड्डी बंधुओं के बिना चुनाव नहीं जीत सकती? इस सवाल के जवाब में येदियुरप्पा ने अपना आपा खोते हुए कहा, ‘मेरे प्यारे दोस्त, हमारे लिए यह निर्वाचन क्षेत्र जीतना बहुत जरूरी है। मेरे लिए यह जरूरी है और हम बेल्लारी में एक बार फिर जीतने वाले हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App