ताज़ा खबर
 

भाजपा शासित तीन राज्यों के मुख्यमंंत्री बना रहे हैं गरीब कल्याण एजंडा

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके समकक्ष महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गरीब कल्याण एजंडे पर विमर्श किया।

Author भोपाल | September 13, 2016 9:32 AM
मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और झारखंड के मुख्यमंत्रियों ने भाजपा का ‘गरीब कल्याण एजंडा’ निर्धारित करने लिए सोमवार यहां बैठक की।

मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और झारखंड के मुख्यमंत्रियों ने भाजपा का ‘गरीब कल्याण एजंडा’ निर्धारित करने लिए सोमवार यहां बैठक की। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके समकक्ष महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास और भाजपा उपाध्यक्ष विनय सहत्रबुद्धे ने पार्टी के गरीब कल्याण एजंडे पर मुख्यमंत्री निवास पर विचार विमर्श किया।

बैठक के बाद फडणवीस और दास की मौजूदगी में चौहान ने संवाददाताओं से कहा कि गरीब कल्याण एजंडा बनाने का जिम्मा पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमारी कमेटी का सौंपा था। इस कमेटी में उनके अलावा देवेंद्र, रघुवर और सहत्रबुद्धे शामिल हैं। उन्होंने कहा, ‘गरीबी हटाओ और गरीब कल्याण की बात बरसों पहले से होती आ रही है। कांग्रेस भी यह नारा देती रही है, लेकिन यह नारा, नारा ही रह गया। गरीबी हटी नहीं और गरीबों का कल्याण नहीं हुआ।’ उन्होंने कहा, ‘भाजपा की प्रेरणा और आधारभूत दर्शन देने वाले पं दीनदयाल का यह जन्मशताब्दी वर्ष है। दीनदयाल जी ने कहा था कि दरिद्र की सेवा ही भगवान की पूजा है। उन्हीं से प्रेरणा लेकर भाजपा अध्यक्ष और प्रधानमंत्री ने गरीब कल्याण एजंडा बनाने का फैसला लिया। कुछ राज्यों में गरीबों के कल्याण की अलग-अलग योजनाएं चल रही है। ये योजनाएं और अधिक व्यापक हों और गरीबों का सही अर्थों में कल्याण हो।’ उन्होंने कहा कि 25 सितंबर को पंडित दीनदयाल की जयंती है और कालीकट में भाजपा की राष्ट्रीय परिषद का सम्मेलन है। उससे पहले हमें यह एजंडा बनाकर पार्टी अध्यक्ष और प्रधानमंत्री को सौंपना है।

HOT DEALS
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback
  • Vivo V5s 64 GB Matte Black
    ₹ 13099 MRP ₹ 18990 -31%
    ₹1310 Cashback

चौहान ने कहा कि सोमवार की बैठक में इस एजंडे पर विस्तृत रूप से चर्चा हुई। मूल रूप से रोटी, कपड़ा और मकान के साथ पढ़ाई, दवाई और कमाई इसका केंद्र बिन्दु है। इस एजंडे में यह तय किया जाएगा कि कोई भूखा न रहे, सबके आवास की व्यवस्था हो, सबको शिक्षा एवं स्वास्थ्य सुलभ हो, ‘हम ऐसी व्यवस्था करें कि गरीब, गरीब न रहे वह स्वावलंबी हो, उसकी आमदनी बढ़े और वह किसी पर आश्रित व अवलंबित न रहे।’ उन्होंने कहा कि गरीब कल्याण के सभी पहलुओं पर व्यापक विचार विमर्श के बाद हम जल्द ही अपनी रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष और फिर अंत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने रखेंगे। उसके बाद पार्टी चर्चा करके गरीब कल्याण एजेंडे को अंतिम रूप देगी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App