तालिबान से बीजेपी की तुलना पर भड़की साध्वी प्रज्ञा, बोली- देश की बुराई करने वाले देशद्रोही हैं

भोपाल से बीजेपी सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, तालिबान से बीजेपी और आरएसएस की तुलना करने पर भड़कती नजर आई। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग आपदा के समय में कहां चले जाते हैं।

pragya thakur bjp mp bhopal
बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

जावेद अख्तर के आरएसएस की तुलना तालिबान से करने पर बीजेपी के नेता लगातार इसका विरोध जता रहे हैं। कार्यकर्ता जहां माफी की मांग कर रहे हैं। वहीं बड़े नेता अपने बयानों के जरिए जावेद अख्तर पर हमला कर रहे हैं।

बीजेपी नेता जावेद अख्तर का विरोध करते-करते अब कांग्रेस को भी इसमें निशाने पर ले रहे हैं। भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, भाजपा और आरएसएस की तुलना तालिबान से करने पर भड़कती नजर आईं। इस मुद्दे पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि देश की खाकर देश की बुराई करने वाले देशद्रोही हैं।

प्रज्ञा ठाकुर ने कहा- “भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस को इन्होंने तालिबानी कहा, मैं एक बात पूछती हूं, इस धरती पर रहते हो, इस धरती पर जन्म लेते हो, पूरा जीवन यहां व्यतीत करते हो अंत में मर जाते हो… मैं एक बात कांग्रेसियों से पूछना चाहती हूं, जब आपदा आती है तब तुम कहां चले जाते हो”।

प्रज्ञा ठाकुर ने भोपाल में एक कार्यक्रम में भाग लेते हुए ये बातें कही। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस का नेतृत्व मौका ढूढते रहते हैं कि देश को कैसे बदनाम किया जाए। विदेशों में कांग्रेस देश को बदनाम करती है।

बता दें कि जावेद अख्तर ने एक इटरव्यू के दौरान बीजेपी और आरएसएस की तुलना तालिबान से कर दी थी। जिसके बाद बीजेपी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए और जावेद अख्तर से माफी की मांग कर रहे हैं।

जावेद अख्तर ने कहा था- “तालिबन कट्टर है और उसकी निंदा होनी चाहिए, लेकिन आरएसएस, वीएचपी और बजरंग दल का जो समर्थन करते हैं, वह भी तो वही काम कर रहे हैं। आरएसएस, वीएचपी और गोलवलकर जैसे कुछ संगठन व लोग ऐसे हैं, जिनकी विचारधारा 1930 के नाजियों की विचारधारा जैसी है। हथियारों के साथ तालिबान अधिक सशक्त लग रहा है, लेकिन दृष्टिकोण और विचारधारा तो एक-दूसरे का प्रतिबिंब ही दर्शाती है”।

आगे अख्तर ने कहा था कि जैसे तालिबान एक इस्लामिक राज्य चाहता है, यहां कुछ लोग हैं जो हिंदू राष्ट्र चाहते हैं। ये सभी एक ही मानसिकता के हैं।

जावेद अख्तर के इस बयान पर अभी भी विवाद जारी है और बीजेपी की ओर से माफी की मांग की जा रही है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट