ताज़ा खबर
 

तेजस्वी बोले- नीतीश-मोदी को करीब लाया सृजन घोटाला, डील थी मिलकर छुपाएंगे पाप

तेजस्वी ने लिखा, "सृजन घोटाले का ही कमाल है, जो आज नीतीश दोबारा भाजपा संग बैठे हुए हैं।"

Author Updated: September 10, 2017 10:04 AM
nitish kumar, sushil modiबिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी। (Source: PTI)

बिहार के भागलपुर में सृजन घोटाले को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) रविवार (10 सितंबर) को एक रैली करने जा रहा है। ‘सृजन के दुर्जनों का विसर्जन’ नामक इस रैली में भाग लेने के लिए राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव शनिवार को पटना से ट्रेन से भागलपुर के लिए रवाना हुए। रैली से पहले विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा। तेजस्वी ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर नीतीश से कई सवाल पूछे।

तेजस्वी ने कहा, “सृजन घोटाला सीधे तौर पर नीतीशजी के संरक्षण में हुआ है। फिर सीबीआई ने अब तक प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज क्यों नहीं की? राजग में जाने की क्या यही डील थी?” उन्होंने आगे लिखा, “सृजन घोटाले का ही कमाल है, जो आज नीतीश दोबारा भाजपा संग बैठे हुए हैं। अपने काले पाप छुपाने के लिए ये लोग एक हुए हैं।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “नीतीश और सुशील मोदी पर सृजन घोटाले में सीबीआई तुरंत दफा 120बी और 420 का मुकदमा दर्ज कर अपनी विश्वसनीयता प्रमाणित करे।” राजद नेता ने एक अन्य ट्वीट में मुख्यमंत्री को घोटाले का संरक्षक बताते हुए लिखा, “सृजन घोटाले के मुख्य संरक्षकों नीतीश कुमार और सुशील मोदी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने के बजाय सीबीआई उन्हें संरक्षण प्रदान करने में जुटी है।”

तेजस्वी ने सृजन घोटाले को लेकर पूरे राज्य में अभियान चलाने की घोषणा की है। उल्लेखनीय है कि पिछली बार तेजस्वी यादव जब भागलपुर गए थे, तब उन्हें इस मुद्दे पर सभा करने को अनुमति नहीं मिली थी। गौरतलब है कि भागलपुर जिले में सृजन घोटाले में 1,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की सरकारी राशि के दुरुपयोग का आरोप है, जिसकी जांच सीबीआई कर रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार: लव मैरेज से नाराज परिजनों ने पूरे परिवार पर बरसाईं गोलियां, पति-पत्नी की मौत
2 विधायकों के कहने के बावजूद लालू यादव से 19 साल पुरानी दोस्ती नहीं तोड़ेंगे राहुल गांधी
3 लालू की पार्टी से गठबंधन तोड़ना चाहते हैं कांग्रेस के 19 विधायक, राहुल से मीटिंग करके रखी बात
ये पढ़ा क्या?
X