ताज़ा खबर
 

तेजप्रताप ने फर्श पर बैठ लगाया जनता दरबार, बोले- जमीन से जुड़ने के लिए जमीन पर उतरना पड़ता है

तेजप्रताप यादव इन दिनों राजद कार्यालय में जनता दरबार लगा फरियादियों की शिकायत सुन रहे हैं। उनकी समस्याओं को दूर करने का आश्वासन दे रहे हैं।

Author Published on: December 30, 2018 6:18 PM
जनता दरबार कार्यक्रम में तेजप्रताप (Photo: Twitter@TejYadav14)

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव ने इन दिनों अपनी राजनीतिक सक्रियता बढ़ा ली है। वे राजद कार्यलय में जनता दरबार लगाने लगे हैं। आम लोगों की फरियाद सुनने लगे हैं। अन्य दिनों की तरह रविवार को भी उन्होंने अपने कार्यालय में जनता दरबार लगाया। हालांकि, आज वे कुर्सी की जगह जमीन पर दरी बिछाकर बैठ गए और लोगों की परेशानियों को सुनने लगे।

मीडियाकर्मियों द्वारा जमीन पर बैठने के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “मैं जमीन का आदमी हूं। जमीन पर ही बैठना चाहता हूं। मुझे कर्म पर भरोसा है। भगवान कृष्ण ने भी कर्म करने की सलाह दी है।”साथ ही उन्होंने कहा कि मैं जहां बैठ जाता हूं, वहीं पंचायत लग जाती है। तेजप्रताप ने जनता दरबार कार्यक्रम की तस्वीर अपने ऑफिशियल टि्वटर अकाउंट पर शेयर किया और लिखा, “जमीन से जुड़ने के लिए जमीन पर उतरना पड़ता है।”

गौरतलब है कि कुछ समय पहले पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने की अर्जी दाखिल करने के बाद तेजप्रताप राजनीति से पूरी तरह दूर हो गए थे। वृंदावन सहित अन्य जगहों की यात्रा पर चले गए थे। तलाक की सुनवाई की तारीख के समय वे पटना वापस लौटे। कोर्ट में हाजिर हुए। परिवार के द्वारा समझाने के बावजूद तलाक के अपने फैसले पर अडिग हैं। अपने लिए सरकार से एक अलग बंगले की मांग की। उसके बाद एक बार फिर से राजनीति में सक्रिय हो गए। राजद कार्यालय में जनता दरबार लगाने लगे।

जनता दरबार के दौरान एक महिला उनके पास यह फरियाद लेकर आयी थी कि फुलवारी थाना में उनकी शिकायत नहीं सुनी जा रही है। इसके बाद वे उसी वक्त फुलवारी थाना पहुंचे और थाने का घेराव कर दिया था। नीतीश सरकार पर जोरदार हमला करते हुए कहा, “बिहार में थानों पर अपराधियों का कब्जा है। थाने में शिकायत लेकर जाने वाले लोगों से थानेदार सरेआम गुडंई बतिया रहें हैं और कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ा रहें हैं लेकिन चाचाजी की अंतरात्मा अभी भी सो रही है। चाचाजी अपनी अंतरात्मा को जगाइए और बताइये इसे मंगलराज कहेंगे या जंगलराज..?”

वहीं, शनिवार (29 दिसंबर) को एक महिला उनके जनता दरबार में आयी। महिला ने आरोप लगाया, “उन्हें व उनके परिवार को तेजस्वी यादव के नाम पर धमकाया जा रहा है। तेजस्वी यादव फैंस क्लब के नाम पर उनकी जमीन हड़पने की कोशिश की जा रही है।” महिला के आरोप पर तेजप्रताप ने कहा, “जो भी आरोपी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। राजद को बदनाम करने वालों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सर्वे: चुनावी झटकों के बावजूद बिहार में बढ़ रही पीएम मोदी, नीतीश कुमार की लोकप्रियता
2 माइक बंद हुआ तो भड़के पप्‍पू यादव, मुलायम, थरूर जैसे सांसद बने निशाना
जस्‍ट नाउ
X