ताज़ा खबर
 

लालू के बेटे तेज प्रताप ने डाली तलाक की अर्जी, छह महीने पहले ही हुई थी शादी

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने बीते 12 मई को ऐश्वर्या राय के साथ शादी की थी। लेकिन अब तेजप्रताप ऐश्वर्या के साथ नहीं रहना चाहते हैं। तेजप्रताप ने ऐश्वर्या से तलाक के लिए अर्जी दाखिल कर दी है।

शनिवार (12 मई) को पटना के वेटनरी कॉलेज में तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी हुई। (फोटो-पीटीआई)

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने बीते 12 मई को ऐश्वर्या राय के साथ शादी की थी। लेकिन अब तेजप्रताप ऐश्वर्या के साथ नहीं रहना चाहते हैं। तेजप्रताप ने ऐश्वर्या से तलाक के लिए अर्जी दाखिल कर दी है। पत्‍नी ऐश्‍वर्या राय से शादी के  तेज प्रताप ने छह महीने में ही   उन्‍होंने तलाक की अर्जी दी है। पटना के फैमिली कोर्ट में उन्‍होंने यह अर्जी दायर की है। ऐश्‍वर्या राजद विधायक चंद्रिका राय की बेटी हैं। तेज प्रताप अपनी शादी को लेकर उत्‍साहित थे, लेकिन अब बताया जाता है कि किसी बाबा या तांत्रिक के कहने पर उन्‍होंने शादी तोड़ने का फैसला लिया है।

तेज प्रताप की ओर से दायर केस नंबर 1208/2018 है। वह 2 नवंबर की शाम पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने रांची गए। पटना में लालू परिवार का कहना है कि वह ऐश्‍वर्या को नहीं छोड़ेंगे। बताया जाता है कि शादी के 15 दिन बाद ही कुछ पारिवारिक विवाद हो गया था, जो अब इस अंजाम तक जा पहुंचा है। ऐश्वर्या तीन भाई-बहनों में सबसे बड़ी हैं। वह पटन के नॉट्रेडम स्कूल से शुरुआती पढ़ाई करने के बाद दिल्ली आ गई थीं। उन्‍होंने नोएडा के एमिटी कॉलेज से एमबीए की पढ़ाई की। उनकी शादी राजनीतिक से बना पारिवारिक रिश्‍ता थी।

यहां क्लिक करके देखें तस्‍वीरें-

View this post on Instagram

ऐश्‍वर्या के पिता चंद्रिका राय, लालू की पार्टी से सारण जिले के परसा विधानसभा से विधायक हैं। पहली बार 1985 में वह कांग्रेस से विधायक बने थे। उनका परिवार राजनीतिक रहा है। उनके पिता दरोगा राय बिहार के 10वें मुख्यमंत्री थे। 16 फरवरी 1970 से 22 दिसंबर 1970 तक वह राज्‍य केे सीएम रहे। ऐश्‍वर्या के बाकी दो भाई-बहनों में एक इंजीनियर और एक वकील है।

As Krishna’s divine flute calls at any time of the. … Krishna’s beloved cows stand tranquilly with their ears spread just … Lord Krishna’s life sets an example for man to change his attitude …

A post shared by Tej Pratap Yadav (@tejpratapyadavrjd) on

उधर, तेज प्रताप 2015 में चुनाव जीत कर पहली बार विधायक बनेे और बिहार सरकार में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री का पद पा लिया। लेकिन वह अक्‍सर धार्मिक गतिविधियों के लिए चर्चा में रहते थे। कभी कृष्‍ण का वेश धर वृंदावन चले जाते थे तो कभी शिव की तरह कपड़े पहन कर बाबा वैद्यनाथ धाम के रास्‍ते में तस्‍वीरें खिंचवाते थे। बता दें कि तेज प्रताप यादव दो दिन पहले वृंदावन के बिहार वन में थे। वहां पर रहने के दौरान उन्होंने गाय चराते हुए, मोरमुकुट लगाकर और बांसुरी बजाते हुए अपनी फोटो भी खिंचवाई थी। ये फोटो उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से भी साझा की थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App