ताज़ा खबर
 

लालू के समधियाने में करीबी नेता को दिनदहाड़े गोलियों से भूना, राजद अध्यक्ष बोले- राजनीतिक हत्या

केदार राय सुबह सगुना मोड़ रोड के पास टहलने निकले थे तभी, मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए सशस्त्र अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और फरार हो गए।
केदार राय सुबह सगुना मोड़ रोड के पास टहलने निकले थे तभी, मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए सशस्त्र अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और फरार हो गए।

बिहार की राजधानी पटना में गुरुवार की राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता और वार्ड पार्षद केदार राय की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के करीबी बताए जाते हैं। इस बीच, पुलिस ने त्वरित कारवाई करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार, केदार राय सुबह सगुना मोड़ रोड के पास टहलने निकले थे तभी, मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए सशस्त्र अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी और फरार हो गए। घायल अवस्था में उन्हें पटना के ही एक निजी अस्पताल भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि अपराधियों की संख्या तीन बताई जा रही है। हत्या के कारणों का अब तक स्पष्ट तौर पर पता नहीं चल पाया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया हत्या के पीछे भूमि विवाद की आशंका जताई जा रही है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने इस मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है तथा अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। इधर, राजधानी में दिनदहाड़े हुई इस हत्या के बाद लोगों में आक्रोश है।

पोस्टमार्टम में बाद जब शव को घर लाया गया है तो एक तरफ जहां परिवार में कोहराम मच गया, वहीं दूसरी तरफ घटना के विरोध में मुहल्ले के लोगों और राजद कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दिया। जन आक्रोश को देखते हुए मौके पर दानापुर, शाहपुर, खगौल, रुपसपुर, फुलवारीशरीफ समेत कई थानों की पुलिस पहुंच गयी है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

इधर, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने इसे राजनीतिक हत्या करार दिया है। उल्लेखनीय है कि महागठबंधन सरकार खत्म होते ही तीन दिन बाद 29 जुलाई को सीवान जिले के शेखपुरा गांव निवासी और राजद नेता मिन्हाज खां की अपराधियों ने उस समय गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वह अपने घर में सोए हुए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.