ताज़ा खबर
 

जेल अफसरों ने पेश की मिसाल, 22 कप चाय में हो गई शादी

आपने ऐसी शादी देखी है जो महज 22 कप चाय से हो जाए। जी हां, इन दिनों यह शादी लोगों में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

Vastu Tips, Vastu Tips or marriage, Vastu Tips for wedding, Vastu Tips for hindu marriage, Delay In Marriage, Delay In Marriage reasons, vastu shastra, Vastu Shastra about marriage, religion newsतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

आपने अपने परिवार में कई ऐसी शादी देखी होगी जो बड़े तामझाम के साथ और गाजे-बाजे के साथ होती है। इतना ही नहीं शादी की रस्मों को निभाने के लिए लड़का-लड़की वाले एक दूसरे से तोहफों की लेनदेन भी करते हैं। लेकिन आपने आज तक कोई ऐसी शादी देखी है जो महज 22 कप चाय से ही हो जाए। जी हां, इन दिनों यह शादी लोगों में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल, मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले का है। वर-वधू दोनों जेल अधीक्षक हैं। वर संदीप कुमार गोपालगंज में जेल अधीक्षक हैं और दुल्हन ज्ञाणिता गौरव शेखपुरा जेल में अधीक्षक के पद पर तैनात हैं। दोनों अधिकारियों की पहली मुलाकात ट्रेनिंग के दौरान हुई और दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया। फिर क्या था दोनों ने सदा के लिए एक-दूसरे का होने का फैसला कर लिया।

दोनों अधिकारियों की शादी शनिवार को मुजफ्फरपुर निबंधन कार्यालय में संपन्न हुई। इस अनोखी शादी में जितने भी मेहमान आए हुए थे इससे पहले वे कुछ समझ पाते, देखते ही देखते शादी संपन्न हो चुकी थी। खास बात ये है कि शादी में मेहमान के तौर पर सिर्फ निबंधन कार्यालय के कुछ कर्मचारी और शादी कराने आए कुछ जोड़े थे। शादी से पहले प्रेमी युगल ने सभी को अपनी ओर से चाय पिलाई। सभी लोग चाय की चुस्कियों का मजा ले पाते तब तक शादी संपन्न हो चुकी थी।

मुजफ्फरपुर निबंधन कार्यालय में शादी के बाद गोपालगंज के जेल सुपरिटेंडेंट संदीप कुमार ने बताया कि आडंबर विहीन शादी का सपना हमने देखा था। हम समाज को एक संदेश देना चाहते है कि शादी-विवाह मे आडंबर नहीं हो। अंतर्जातीय विवाह में मिलने वाले लाभ की बात करते हुए दुल्हा बने संदीप ने बताया कि अभी हमने उस लाभ के लिये अप्लाई नहीं किया है। निश्चित रूप से उक्त राशि के लिए आवेदन देंगे और मिलने पर उस राशि का उपयोग गरीब बच्ची की शादी में मदद करके करेंगे।

वहीं दुल्हन बनीं ज्ञाणिता गौरव ने कहा कि शादी से पहले जब हम दहेज की कहानियां सुनते थे तभी हमने सोच लिया था कि पढ़-लिख कर उस मुकाम को हासिल करेंगे जिससे बिना दहेज की शादी कर सकें। यह शादी उन लोगों के लिए एक आईना है जो शादी समारोह में दिखावे के नाम पर करोडो रुपये फूंक देते है। समाज के सामने इस शादी ने मिसाल पेश की है। चूंकि, इस समय देशभर में कैशलेस की चर्चा चल रही है, इसलिए लोग-बाग इसे कैशलेश शादी की संज्ञा भी दे रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नीतीश कुमार का ‘कमल प्रेम’ फिर उजागर, पहले भरा उसमें ‘भगवा रंग’ और दस्तखत कर लगा दी अपनी मुहर
2 लेनदेन का वीडियो देखकर भड़क उठे डीआईजी, कर दिया पूरे थाने को लाइन हाजिर
3 नीट आवेदकों का दर्द: सालभर पैसे खर्च कर परीक्षा की तैयारी की, जब फॉर्म भरने का वक्त आया तो नियम क्यों बदला
ये पढ़ा क्या?
X