ताज़ा खबर
 

जेल अफसरों ने पेश की मिसाल, 22 कप चाय में हो गई शादी

आपने ऐसी शादी देखी है जो महज 22 कप चाय से हो जाए। जी हां, इन दिनों यह शादी लोगों में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

आपने अपने परिवार में कई ऐसी शादी देखी होगी जो बड़े तामझाम के साथ और गाजे-बाजे के साथ होती है। इतना ही नहीं शादी की रस्मों को निभाने के लिए लड़का-लड़की वाले एक दूसरे से तोहफों की लेनदेन भी करते हैं। लेकिन आपने आज तक कोई ऐसी शादी देखी है जो महज 22 कप चाय से ही हो जाए। जी हां, इन दिनों यह शादी लोगों में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल, मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले का है। वर-वधू दोनों जेल अधीक्षक हैं। वर संदीप कुमार गोपालगंज में जेल अधीक्षक हैं और दुल्हन ज्ञाणिता गौरव शेखपुरा जेल में अधीक्षक के पद पर तैनात हैं। दोनों अधिकारियों की पहली मुलाकात ट्रेनिंग के दौरान हुई और दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया। फिर क्या था दोनों ने सदा के लिए एक-दूसरे का होने का फैसला कर लिया।

दोनों अधिकारियों की शादी शनिवार को मुजफ्फरपुर निबंधन कार्यालय में संपन्न हुई। इस अनोखी शादी में जितने भी मेहमान आए हुए थे इससे पहले वे कुछ समझ पाते, देखते ही देखते शादी संपन्न हो चुकी थी। खास बात ये है कि शादी में मेहमान के तौर पर सिर्फ निबंधन कार्यालय के कुछ कर्मचारी और शादी कराने आए कुछ जोड़े थे। शादी से पहले प्रेमी युगल ने सभी को अपनी ओर से चाय पिलाई। सभी लोग चाय की चुस्कियों का मजा ले पाते तब तक शादी संपन्न हो चुकी थी।

मुजफ्फरपुर निबंधन कार्यालय में शादी के बाद गोपालगंज के जेल सुपरिटेंडेंट संदीप कुमार ने बताया कि आडंबर विहीन शादी का सपना हमने देखा था। हम समाज को एक संदेश देना चाहते है कि शादी-विवाह मे आडंबर नहीं हो। अंतर्जातीय विवाह में मिलने वाले लाभ की बात करते हुए दुल्हा बने संदीप ने बताया कि अभी हमने उस लाभ के लिये अप्लाई नहीं किया है। निश्चित रूप से उक्त राशि के लिए आवेदन देंगे और मिलने पर उस राशि का उपयोग गरीब बच्ची की शादी में मदद करके करेंगे।

वहीं दुल्हन बनीं ज्ञाणिता गौरव ने कहा कि शादी से पहले जब हम दहेज की कहानियां सुनते थे तभी हमने सोच लिया था कि पढ़-लिख कर उस मुकाम को हासिल करेंगे जिससे बिना दहेज की शादी कर सकें। यह शादी उन लोगों के लिए एक आईना है जो शादी समारोह में दिखावे के नाम पर करोडो रुपये फूंक देते है। समाज के सामने इस शादी ने मिसाल पेश की है। चूंकि, इस समय देशभर में कैशलेस की चर्चा चल रही है, इसलिए लोग-बाग इसे कैशलेश शादी की संज्ञा भी दे रहे हैं।

देखिए वीडियो - ओडिशा में ट्रांसजेडर महिला ने रचाई पुरूष से शादी

ये वीडियो भी देखिए - शादी मंडप में दूल्हे ने मांगी बुलेट और समधी ने दो लाख रुपये दहेज तो पुलिस उठाकर ले गई

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App