ताज़ा खबर
 

बिहारः जनता का फूटा गुस्सा, विधायक के पति को कीचड़ में करनी पड़ी ‘परेड’

पूर्व विधायक देवनाथ यादव का वाहन प्रदर्शन करने वालों के बीच फंस गया। देवनाथ यादव की पत्नी गुलजार देवी वर्तमान में फुलपरास सीट से विधायक हैं। नाराज लोगों ने पूर्व विधायक को जबरन वाहन से उतार लिया और कीचड़ भरी सड़क में करीब एक किलोमीटर पैदल चलवाया।

बिहार के मधुबनी के फुुलपरास में बरसात के बाद थाने के सामने जलभराव। फोटो- बीरेंद्र दत्‍त (स्‍थानीय निवासी)

बिहार के मधुबनी जिले के निवासी इन दिनों भारी बरसात के बाद पैदा हुई समस्याओं से खासे परेशान हैं। गलियों और मुख्य मार्गों पर परेशान होकर स्थानीय लोग मंगलवार (7 अगस्त) को प्रदर्शन कर रहे थे। ये प्रदर्शन मधेपुर गांधी चौक पर हो रहा था। इसी बीच पूर्व विधायक देवनाथ यादव का वाहन प्रदर्शन करने वालों के बीच फंस गया। देवनाथ यादव की पत्नी गुलजार देवी वर्तमान में फुलपरास सीट से विधायक हैं। नाराज लोगों ने पूर्व विधायक को जबरन वाहन से उतार लिया और कीचड़ भरी सड़क में करीब एक किलोमीटर पैदल चलवाया।

दरअसल मधेपुर गांधी चौक के पास प्रदर्शन में स्थानीय नागरिकों के साथ व्यापारी भी शामिल थे। लोगों ने सड़क पर टायर जलाकर सड़क भी जाम कर रखी थी। इसी बीच पूर्व विधायक देवनाथ यादव का काफिला इस प्रदर्शन में फंस गया। गाड़ी देखते ही लोग भड़क गए और वाहन घेरकर नारेबाजी शुरू कर दी।

भीड़ को उग्र होता देखकर देवनाथ यादव वाहन से नीचे उतर गए। इसके बाद लोग जबरन उन्हें लेकर कीचड़ भरी सड़क से लेकर एक किलोमीटर तक गए। व्यापारी तो उन्हें अपनी दुकान दिखाने भी ले जाना चाहते थे। लेकिन स्थानीय लोगों ने पूर्व विधायक की आयु का हवाला देकर छोड़ने के लिए कहा।

पूर्व विधायक को गाड़ी से उतारने की सूचना पर बीडीओ तेज प्रताप त्यागी, सीओ अशोक कुमार सिन्हा और थाने के एसआई अभिमन्यु कुमार शर्मा भी पुलिस बल के साथ पहुंचे। लेकिन तब तक विधायक पति को जनता ने छोड़ दिया था। स्थानीय प्रशासन ने विधायक पति के उपस्थिति में प्रदर्शनकारियों से बातचीत की। शीघ्र समस्या का निदान होने का भरोसा मिलने के बाद ही जाम समाप्ति की घोषणा की गई। इसके बाद लगभग चार घंटे तक चला प्रदर्शन खत्म किया जा सका। इस दौरान कई छोटे-बड़े वाहन भी घंटों जाम के कारण फंसे रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App