ताज़ा खबर
 

तेजप्रताप से जुड़े सवाल पर झल्‍लाए तेजस्‍वी- आपकी बीवी ने अच्छा खाना बनाया या नहीं, मैंने पूछा?

तेजस्वी ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर निजी मामलों को इसी तरह उछाला जाता रहा तो बिहार के मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक कोई नहीं बचेगा।

Author Updated: November 11, 2018 5:28 PM
आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव। (पीटीआई फोटो)

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव बड़े भाई तेजप्रताप से जुड़ा सवाल पूछने पर मीडियाकर्मियों पर खासे भड़क गए। झल्लाते हुए उन्होंने पूछा कि आपकी बीवी ने अच्छा खाना बनाया या बुरा मैंने पूछा क्या? सदन में विपक्ष के नेता ने कहा यह उनके परिवार का निजी मामला है। दरअसल शनिवार (10 नवंबर, 2018) को तेजस्वी अपनी बहन रागिनी यादव और उनके पति के साथ रिम्स में भर्ती पिता और आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव से मिलने गए थे। इस दौरान मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में तेजस्वी ने कहा, ‘तेजप्रताप के तलाक से जुड़े मसले के समाधान ढूंढने में हमारा परिवार सक्षम है। जनहित के मुद्दों की जगह पारिवारिक मामलों को सार्वजनिक मुद्दा बनाना गलत है।’ तेजस्वी ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर निजी मामलों को इसी तरह उछाला जाता रहा तो बिहार के मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक कोई नहीं बचेगा।

तेजस्वी ने आगे कहा, ‘शुक्रवार को मेरा जन्मदिन था इसलिए पिता लालू के पास आशीर्वाद लेने के लिए पहुंचे थे। हम उनकी सेहत को लेकर बहुत चिंतित हैं। हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि उनकी सेहत में सुधार हो रहा है।’ पत्रकारों से बातचीत में तेजस्वी ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी खूब निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार तानाशाही चला रहे हैं। जनता सब देख रही है। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया तो उनपर लाठी चार्ज कराया गया। आरजेडी के युवा कार्यकर्ताओं ने बेरोजगारी के सवाल पर राजभवन मार्च किया तो उनपर भी लाठी चार्ज कराया गया। सीएम की नीतीश की डबल इंजन वाली सरकार विकास के सवालों से भाग रही है।

बता दें कि तेजप्रताप यादव शनिवार को फिर वृंदावन पहुंच गए। तेज प्रताप दोपहर बाद तक वहीं रहे। तेज प्रताप पत्नी एश्वर्य से तलाक के लिए अदालत में अर्जी लगाने को लेकर चर्चा में हैं। गले में कंठी माला पहने और माथे पर तिलक लगाए और सफेद रंग का कुर्ता-पायजामा पहने राजद नेता शनिवार को करीब एक बजे अचानक वृन्दावन के केशी घाट पहुंचे। तेज प्रताप ने पौन घण्टे तक अपने मित्रों के साथ केशी घाट पर नौका विहार किया। हालांकि इस दौरान उन्होंने मीडिया से दूरी बनाए रखी। वृंदावन की संकरी गलियों से निकलते हुए जब कुछ पत्रकारों ने उनसे बात करने की कोशिश की तो तेज प्रताप ने कहा- ‘मुझे अपनी जिंदगी जी लेने दो भाई। मैं शांति की तलाश में हूं। उसमें अनावश्यक हस्तक्षेप ना करें।’ शुक्रवार को भी तेज प्रताप मथुरा और वृंदावन आए थे।  (एजेंसी इनपुट सहित)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 जबतक परिवार नहीं देगा तलाक पर साथ, तबतक नहीं लौटेंगे घर, तेज प्रताप ने रखी कड़ी शर्त
2 ऐश्‍वर्या के साथ रहने को तैयार नहीं तेज प्रताप, राबड़ी भी हुईं बीमार, नहीं करेंगी छठ
जस्‍ट नाउ
X