ताज़ा खबर
 

लालू यादव के बेटे तेजप्रताप यादव पहुंचे कैंटीन, खुद बनाने लगे मिठाई

लालू प्रसाद यादव के लड़के और बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव गुरुवार (4 अगस्त) को विधानसभा कैंटीन पहुंचकर खुद मिठाई बनाने लगे।

तेजप्रताप यादव लालू के बड़े बेटे हैं। वह बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री हैं।

लालू प्रसाद यादव के लड़के और बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव गुरुवार (4 अगस्त) को विधानसभा कैंटीन पहुंचकर खुद मिठाई बनाने लगे। दरअसल, उस दिन विधानसभा की कार्यवाही स्थगित हो गई थी। ऐसे में तेजप्रताप विधान सभा की कैंटीन पहुंच गए। दरअसल, वे वहां बन रही खाद्य सामग्री का जायजा लेने गए थे। वे देख रहे थे कि वहां सब ठीक है या नहीं। तेजप्रताप को कैंटीन में गंदगी मिली थी। इसपर उन्होंने सख्त निर्देश दिया कि वहां साफ-सफाई रहनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने खाद्य सामग्री की गुणवत्ता को लेकर भी कई तरह के निर्देश दिये। यह दौरा अचानक हुआ जिससे कैंटीन वालों को कोई खास तैयारी करने का मौका भी नहीं मिला।

खुद बनाई गाजा: कैंटीन में तेजप्रताप यादव ने वहां बनने वाली सबसे स्वादिष्ट मिठाई गाजा को खुद बनाया। यह बेसन की मिठाई होती है। बिहार विधानसभा की कार्यवाही का गुरुवार को आखिरी दिन था और तेज प्रताप बस यूं ही घूमते हुए कैंटीन पहुंच गए थे।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 Plus 32 GB Black
    ₹ 59000 MRP ₹ 59000 -0%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

तेजप्रताप यादव लालू के बड़े बेटे हैं। पिछले महीने वह एक पत्रकार से उलछने के बाद सुर्खियों में आ गए थे। उस वक्त वहां पार्टी सुप्रीमो और उनके पिता लालू यादव भी मौजूद थे। लालू बोलते रहे, लेकिन तेजप्रताप का गुस्सा कम नहीं हुआ था। अन्य सीनियर नेता भी वहां बैठे हुए थे। उन्होंने धमकी देते हुए कहा कि प्रेस से हो, इसलिए इज्जत कर रहे हैं। मानहानि का केस करेंगे। उन्होंने पत्रकार को कहा कि पहले तस्वीर डिलीट कर दो, नहीं तो केस कर देंगे।

Read Also: बिहार: कानून व्‍यवस्‍था पर उठ रहे सवाल, वॉटर पार्क में मस्‍ती करते दिखे लालू के बेटे तेज प्रताप

Tej Pratap Yadav, canteen, Making sweet, Assembly canteen
तेजप्रताप यादव लालू के बड़े बेटे हैं। वह बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App