ताज़ा खबर
 

बिहार: नीतीश कुमार के कारण सुकमा शहीदों की गाड़ी को रोका गया, बीजेपी भड़की

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक कार्यक्रम में भाग लेने के क्रम में पटना हवाई अड्डा से निकल रहे नक्सल हमले के शहीदों के शव ले जा रही गाड़ी को करीब 15 मिनट इंतजार करना पड़ा।

Author पटना | April 26, 2017 11:06 PM
सेना के शहीद।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक कार्यक्रम में भाग लेने के क्रम में उनकी सुरक्षा कारणों को लेकर पटना हवाई अड्डा से निकल रहे छत्तीसगढ़ में नक्सल हमले में शहीद हुए सीआीपीएफ जवानों के शव काफिले को रोके जाने को मीडिया में उजागर किए जाने पर भाजपा इसकी निंदा की है। टीवी चैनलों ने फुटेज दिखाया है कि शहीद जवानों के शव के काफिले के कल देर शाम पटना हवाई अड्डे से निकलने के समय हवाई अड्डे के निकासी गेट के समीप रोका गया, क्योंकि मुख्यमंत्री बिहार सड़क विकास निगम के एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उसी रास्ते से जाने वाले थे। इस घटनाक्रम की विपक्षी दल भाजपा ने निंदा की है। शहीदों का शव पटना हवाई अड्डा लाए जाने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित उनके मंत्रिमंडल के किसी भी सदस्य के नहीं पहुंचने और मुख्यमंत्री के काफिले का रास्ता बनाने के लिए शहीदों के शव का वाहन रोकेन जाने के मामले में पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक प्रश्न का उत्तर देते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने इसे दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

उन्होंने कहा कि इस मामले में मुख्यमंत्री को संवेदनशीलता बरतनी चाहिए थी। उन्होंने इसको लेकर उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर भी प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि वे शहीदों के शव से कुछ दूरी पर अतिथि कक्ष में बैठे रहे और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने नहीं गए। बिहार विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि इससे बिहार की छवि धूमिल हुई है इसलिए मुख्यमंत्री को शहीदों के परिजनों और देश की जनता से क्षमा याचना करनी चाहिए। भाजपा के प्रदेश मुख्य प्रवक्ता विनोद नारायण झा ने भी ऐसी ही राय प्रकट की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App