ताज़ा खबर
 

11 साल बाद जेल से छूटे शहाबुद्दीन के साथ दिखा पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या का आरोपी शार्प शूटर कैफ

पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में आरोपी शूटर कैफ को आरजेडी के पूर्व सासंद और बाहुबली मोहम्मद शहाबुद्दीन के साथ देखा गया है। सीवान पुलिस के एसपी ने फोटो देखकर इस बात की पुष्टि की है।

Author नई दिल्ली | September 13, 2016 7:23 PM
बाहुबली शहाबुद्दीन के साथ देखा गया पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या का आरोपी (ANI Photo)

पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में आरोपी शूटर कैफ को आरजेडी के पूर्व सासंद और बाहुबली मोहम्मद शहाबुद्दीन के साथ देखा गया है। सीवान पुलिस के एसपी ने फोटो देखकर इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि शार्प शूटर मोहम्मद कैफ की तालाश जारी है, जल्द ही उसे गिरफ्तार किया जाएगा। बता दें पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या में मोहम्मद शहाबुद्दीन का हाथ होने का शक जताया गया था। राजदेव रंजन की पत्नी और उनके परिवार ने इस संबंध में दावा किया था।

जानकारी के मुताबिक जिस दिन भागलपुर की जेल से शहाबुद्दीन की रिहाई हुई थी उस दिन शहाबुद्दीन के साथ पत्रकार राजदेव की हत्या का आरोपी मोहम्मद कैफ उर्फ बंटी भी भागलपुर जेल के बाहर शहाबुद्दीन के साथ दिखा था। ANI ने एक फोटो ट्वीट की जिसमें शूटर को शहाबुद्दीन के साथ देखा जा सकता है। यह तस्वीर 10 सितंबर की है, जिस दिन शहाबुद्दीन की रिहाई हुई थी। कैफ पत्रकार हत्या मामले में फरार चल रहा है।

गौरतलब है कि 13 मई को बिहार के सीवान जिले में पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या कर दी गई थी। हत्या में शहाबुद्दीन की भूमिका होने का आरोप है। पुलिस ने इस मामले में 5 शूटरों को गिरफ्तार किया था, जिन्होंने पूछताछ में लड्डन मियां नाम लिया था। पता चला था कि लड्डन मियां के कहने पर ही शूटरों ने पत्रकार को गोली मारी थी। लड्डन मियां को बाहुबली शहाबुद्दीन का करीबी माना जाता है। लड्डन मियां ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया था।

हालांकि शहाबुद्दीन ने सोमवार को एक टीवी चैनल से बातचीत में अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया था। शहाबुद्दीन ने कहा था कि उनका इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है। वह न तो इस मामले में नामजद और न उनके खिलाफ कोई चार्जशीट हुई है। वहीं राजदेव रंजन की पत्नी आशा रंजन ने शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद शक जताया था कि शहाबुद्दीन उन पर हमला करवा सकते हैं। आशा रंजन और उनके परिवार ने राजदेव रंजन की हत्या में शहाबुद्दीन का हाथ होने का शक जताया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App