ताज़ा खबर
 

बिहार: वाजपेयी की आलोचना करने पर गांधी यूनिवर्सिटी के असिस्‍टेंट प्रोफेसर को पीटा

सभी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 325, 341, 147, 148, 149, 365, 448, 506 और 120-B के तहत केस दर्ज किया गया है।

Author August 18, 2018 11:52 AM
वायरल वीडियो का स्क्रीन शॉट। मारपीट मामले में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

बिहार के मोतिहारी में पुलिस ने महात्मा गांधी सेंट्रल यूनिवर्सिटी (MGCU) के असिस्टेंट प्रोफेसर संग मारपीट के आरोप में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। प्रोफेसर ने फेसबुक पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहार वाजपेयी के खिलाफ आलोचनात्मक पोस्ट शेयर की थी। जिसपर उनके साथ मारपीट की गई। बीते गुरुवार को पूर्व पीएम मौत हो गई थी। यूनिवर्सिटी में समाजशास्त्र विभाग के प्रोफेसर संजय कुमार के सहयोगियों ने बताया कि मारपीट में उन्हें गंभीर चोटें आई हैं। वह बार-बार बेहोश हो रहे हैं। टाउन पुलिस को संजय कुमार ने अपनी शिकायत में बताया कि वह मोतिहारी के आजाद नगर स्थित अपने कमरे में थे, तभी राहुल पांडे और अमन बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में 20-25 लोगों ने उनपर हमला कर दिया और हत्या करने की कोशिश की। प्रोफेसर के मुताबिक हमले के वक्त आरोपी ने उनसे कहा कि ‘मैं क्यों मोतिहारी यूनिवर्सिटी के वीसी और अन्य लोगों के खिलाफ बोलता हूं।’ बता दें घटना के कथित वीडियो में एक शख्स संजय कुमार से कहता नजर आ रहा है कि अगर वह चाहता है तो ‘कन्हैया कुमार बन’ जाए। पीड़ित का आरोप है कि आरोपी ने उनपर पेट्रोल डालने की भी कोशिश की।

मारपीट से पहले संजय कुमार ने एक शिकायत नोट भी फेसबुक पर शेयर किया था। इसमें उन्होंने आरोप लगाते हुए लिखा कि फेसबुक पोस्ट्स की वजह से दैनिक भास्कर के कर्मी संजय कुमार सिंह ने उन्हें ‘आतंकवादी’ तक कहा था। जानकारी के मुताबिक प्रोफेसर संजय कुमार संग मारपीट में राहुल कुमार पांडे और संजय वाजपेयी के अलावा अमन बिहारी वाजपेयी, पुरुषत्तोम मिश्रा, रविकेश मिश्रा, ज्ञानेश्वर गौतम, संजय कुमार सिंह (दैनिक भास्कर का लोकल ब्यूरो चीफ), डॉक्टर पवनेश कुमार सिंह, दिवाकर कुमार सिंह, दिनेश व्यास, जितेंद्र गिरी और राकेश पांडे के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। सभी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 325, 341, 147, 148, 149, 365, 448, 506 और 120-B के तहत केस दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App