scorecardresearch

Nitish Kumar vs BJP: नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मुलाकात कर सौंपा इस्तीफा, बीजेपी बोली- यह जनता के साथ धोखा

कांग्रेस और जीतन राम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ने नीतीश कुमार को बिना किसी शर्त के समर्थन देने का ऐलान किया है।

Nitish Kumar vs BJP: नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मुलाकात कर सौंपा इस्तीफा, बीजेपी बोली- यह जनता के साथ धोखा
नीतीश कुमार (Photo Credit – PTI)

बिहार में बीजेपी और जेडीयू के बीच घमासान मचा हुआ है और कुछ देर में बीजेपी कोर ग्रुप की बैठक करेगी और फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। वहीं इस पूरे घटनाक्रम के बीच राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मुलाकात की। नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मिलकर अपना इस्तीफा सौंपा। वहीं वह विपक्षी दलों (आरजेडी, कांग्रेस, हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा और वामपंथी दल) के साथ मिलकर फिर से मिलकर सरकार बनायेंगे। नीतीश ने 160 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी सौंपी।

वहीं इस्तीफा देने के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि एनडीए से बाहर आने का फैसला पार्टी का है। सभी नेता एनडीए से बाहर आना चाहते थे। हमने एनडीए छोड़ दिया और सभी नेता इसपर राजी हैं।

वहीं नीतीश कुमार के इस्तीफा सौंपने के बाद बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया और कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार की जनता और बीजेपी के साथ धोखा किया है। संजय जयसवाल ने कहा कि 2020 में जनादेश जेडीयू और बीजेपी को मिला था लेकिन उन्होंने खुद एनडीए छोड़ा है।

पटना में जेडीयू विधायकों और सांसदों की बैठक हुई और इसमें आरसीपी सिंह पर चर्चा हुई। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही कि बैठक में नीतीश कुमार ने कहा, “बीजेपी ने हमेशा अपमानित करने का काम किया। बीजेपी, जेडीयू को कमजोर करने की कोशिश में लगी हुई थी।”

वहीं बैठक के बाद बीजेपी नेता और बिहार सरकार में मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा, “हम किसी को कमजोर करने की कोशिश नहीं करते, बल्कि हम अपनी पार्टी को मजबूत करने की कोशिश करते हैं। हमने किसी को कमजोर करने का काम नहीं किया।”

Koo App
नये स्वरूप में नये गठबंधन के नेतृत्व की जवाबदेही के लिए श्री नीतीश कुमार जी को बधाई। नीतीश जी आगे बढ़िए। देश आपका इंतजार कर कर रहा है।
– Upendra Kushwaha (@upendrajdu) 9 Aug 2022

इसके पहले शाहनवाज हुसैन ने सुबह दिल्ली में कहा था, “बिहार के मौजूदा राजनीतिक हालात की जानकारी नहीं है। बिहार से लालटेन राज खत्म हुआ है। मैं दिल्ली में हूं, पटना लौट रहा हूं। मैं कोई भविष्यवक्ता नहीं हूं।” बीजेपी नीतीश कुमार के कदम का इंतजार कर रही है और वेट एंड वाच की स्थिति में है।

बिहार में जेडीयू नेताओं की बैठक से पहले ही कांग्रेस, सीपीआईएम और जीतन राम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ने नीतीश कुमार को बिना किसी शर्त के समर्थन देने का ऐलान कर दिया। जल्द ही बिहार में नीतीश कुमार, आरजेडी, कांग्रेस, जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तान आवाम मोर्चा और वामदलों के साथ मिलकर नई सरकार बन सकते हैं। नई सरकार में नीतीश कुमार ही मुख्यमंत्री का पद संभालेंगे जबकि तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम बन सकते हैं।

पढें पटना (Patna News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.