ताज़ा खबर
 

नीतीश कुमार का स्‍वतंत्रता दिवस पर एलान, बिहार में खोले जाएंगे पांच नए मेडिकल कॉलेज

नीतीश ने घोषणा की कि विकसित बिहार के 7 निश्चय के तहत आर्थिक हल युवाओं को बल के निश्चय के अन्तर्गत इस वर्ष गांधी जयन्ती आगामी 2 अक्टूबर से युवाओं के लिये समेकित कार्य योजना लागू की जायेगी।

Author पटना | August 16, 2016 2:08 AM
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (पीटीआई फाइल फोटो)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार की महागठबंधन सरकार के न्यूनतम साझा कार्यक्रम ‘सात निश्चय’ से जुड़ी विभिन्न योजनाओं सहित प्रदेश में पांच नए मेडिकल कॉलेज की स्थापना के साथ कई अन्य योजनाओं की सोमवार घोषणा की। 70वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में राष्ट्र ध्वज तिरंगा फहराने के बाद अपने संबोधन में नीतीश ने घोषणा की कि विकसित बिहार के 7 निश्चय के तहत आर्थिक हल युवाओं को बल के निश्चय के अंतर्गत इस वर्ष गांधी जयंती (आगामी 2 अक्तूबर) से युवाओं के लिए समेकित कार्य योजना लागू की जाएगी।

उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय में निर्माणाधीन पंजीकरण एवं परामर्श केंदों में युवाओं का ऑनलाइन पंजीकरण होगा और वे अपनी इच्छानुसार निम्न योजनाओं का लाभ ले सकेंगे। नीतीश ने कहा कि सात निश्चय में शामिल उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए स्टूडेन्ट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 4 लाख तक का शिक्षा ऋण प्राप्त कर सकेंगे। स्वयं सहायता भत्ता योजना के अन्तर्गत 20 से 25 वर्ष के बेरोजगार युवाओं को रोजगार तलाशने के दौरान सहायता के तौर पर 1000 रुपए प्रतिमाह की दर से स्वयं सहायता भत्ता की सुविधा दो वर्षो के लिए दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि भाषा एवं संवाद और बुनियादी कंप्यूटर ज्ञान के लिए कुशल युवा योजना का लाभ उठा सकेंगे। सभी 534 प्रखंडों में कौशल विकास केंद्र का निर्माण किया जा रहा है। नीतीश ने घोषणा की कि उद्यमिता विकास एवं स्टार्ट अप कैपिटल हेतु योजना का सूत्रण इसी माह में कर लिया जाएगा। युवा जो नवाचार एवं तकनीक के क्षेत्र में उद्योग लगाकर स्वरोजगार करना चाहते हैं उनको आवश्यक वित्तीय सहायता एवं नीतिगत समर्थन उपलब्ध कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य के सभी सरकारी विश्वविद्यालयों एवं कॉलेजों में निशुल्क वाई-फाई की सुविधा फरवरी 2017 से उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की कि अवसर बढ़े आगे पढ़े निश्चय के तहत जिला एवं अनुमंडल में उच्च व्यवसायिक एवं तकनीकी शिक्षा की समुचित व्यवस्था की जा रही है और इस निश्चय को पूरा करने के लिए प्रदेश में 23 जीएनएम स्कूल, 54 एएनएम स्कूल, 33 पैरा मेडिकल इन्स्टीट्यूट, 16 नर्सिंग कॉलेज, 11 पॉलिटेकनिक, 54 सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, 22 महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान एवं 25 अभियंत्रण महाविद्यालयों की स्थापना अगले 4 वर्ष में की जाएगी।

उन्होंने बताया कि इसी तरह पांच नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के लिए बेगूसराय , वैशाली, सीतामढ़ी, भोजपुर एवं मधुबनी जिले का चयन किया गया है। साथ ही पूर्णिया एवं पाटलिपुत्र विश्वविद्यालयों तथा में बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय की स्थापना का निर्णय लिया गया है। नीतीश ने घोषणा की कि स्वतंत्रता संग्राम की नींव बापू ने चंपारण सत्याग्रह से रखी थी, इस ऐतिहासिक स्मृति को अगले वर्ष चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह का आयोजन किया जाएगा। इसी तरह जनवरी 2017 में गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज की 350वीं जयंती मनाई जाएगी और इस अवसर पर गुरु गोविन्द सिंह के जीवन परिचय एवं उपलब्धियों से अवगत कराने के लिए पटना में एक बहुउद्देशीय प्रकाश पर्व केंद्र की स्थापना की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App