ताज़ा खबर
 

पटना: नीतीश राज में थाने से सिर्फ 500 मीटर दूर नाबालिग से गैंगरेप

मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि अन्य दो लोग भागने में कामयाब हो गए।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

कठुआ और उन्नाव के अब बिहार में गैंगरेप का गंभीर मामला सामने आया है। खबर के अनुसार बीते शनिवार (14 अप्रैल, 2018) को राजधानी पटना में मीठापुर सब्जी मंडी में नाबालिग से गैंगरेप किया गया। चौंकाने वाली बात यह है कि घटनास्थल से पुलिस थाना महज 500 मीटर की दूरी पर है। यह जानकारी जी मीडिया के हवाले से है। मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि अन्य दो लोग भागने में कामयाब हो गए। घटना के बाद पीड़िता को हॉस्पिटल पहुंचाया गया है, जहां उसने बताया कि घर जाने के लिए वह ट्रेन पकड़ रही थी। इस दौरान वहां पहले से मौजूद चार लोगों ने उसके कपड़े फाड़ दिए और गैंगरेप किया।

कोतवाली डीसीपी शिवली नोमानी ने बताया कि पीड़िता फतुआ की निवासी है। परिजनों को घटना की जानकारी दे दी गई है। दो आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया है जबकि दो भागने में कामयाब रहे। आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस टीम का गठन कर दिया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी मूल रूप से पटना और बुध मार्ग के निवासी है। जिन्हें गिरफ्तार किया गया है उन्होंने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

बता दें कि बिहार में जेडीयू प्रमुख और मुख्यमंत्री नतीश कुमार भाजपा संग गठबंधन कर राज्य में सरकार चला रहे हैं। हालांकि पिछले दिनों दोनों दलों के बीच कथित तौर पर तल्खी देखने को मिली है। राज्य में हिंसा और सांप्रदायिक के बीच विपक्ष के निशाने पर आए नीतीश ने आंबेडकर जयंती पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी पार्टी भ्रष्टाचार, अपराध और सांप्रदायिकता से कतई समझौता नहीं करेगी। इसके लिए चाहे वह सत्ता में रहें या नहीं रहें। इस दौरान नीतीश ने आगे कहा कि उनकी पार्टी के जो बुनियादी सिद्धांत हैं उससे कभी समझौता नहीं किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App