scorecardresearch

एक फुट लंबी चोटी रखने से कोई ज्ञानी नहीं बन जाता- तेजस्वी ने गिरिराज पर साधा निशाना तो शलभमणि त्रिपाठी ने किया पलटवार

बिहार में नीतीश कुमार के गठबंधन बदलने को लेकर बीजेपी ने नीतीश कुमार पर विश्वासघात और जनादेश के अपमान करने का आरोप लगाया है।

एक फुट लंबी चोटी रखने से कोई ज्ञानी नहीं बन जाता- तेजस्वी ने गिरिराज पर साधा निशाना तो शलभमणि त्रिपाठी ने किया पलटवार
गिरिराज सिंह और तेजस्वी यादव (फोटो सोर्स: पीटीआई/फाइल फोटो)

बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का एक इंटरव्यू का एक क्लिप शेयर करते हुए उन पर निशाना साधा है। इसके जवाब में तेजस्वी यादव ने गिरिराज सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि एक फुट लंबी चोटी रखने से कोई ज्ञानी नहीं हो जाता। वहीं अब यह मामला बढ़ता दिखाई दे रहा है। यूपी से भाजपा विधायक और प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने भी तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है।

दरअसल केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक इंटरव्यू शेयर किया था जिसमें तेजस्वी यादव यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि 10 लाख नौकरी देने का वादा उन्होंने किया तो था लेकिन यह मुख्यमंत्री बनने के लिए था। हालांकि उन्होंने आगे कहा कि इसके संबंध में वह नीतीश कुमार से बात करेंगे और रोजगार को लेकर काम करेंगे। गिरिराज सिंह ने इस क्लिप को शेयर करते हुए लिखा, “10 लाख रोजगार देने का जो हमने वादा किया था वह हम मुख्यमंत्री बनने पर पूरा करेंगे, अभी तो हम उपमुख्यमंत्री हैं।”

वहीं गिरिराज सिंह के ट्वीट पर बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने निशाना साधते हुए ट्वीट कर लिखा, “श्रीमान जी इतना बेशर्म मत बनिए। एक फुट लंबी चोटी रखने से कोई ज्ञानी नहीं बन जाता, जैसे आप रखते है। आप लोगों की इन चिरकुट हरकतों, Edited Videos व सड़क छाप बयानों की बदौलत ही भाजपा की यह दुर्दशा है। इन बेचारों का बिहार में कोई चेहरा ही नहीं। बाक़ी इस पूरे वीडियो को सुन ख़ुशी मनाइए।”

वहीं अब यह मामला सोशल मीडिया पर तूल पकड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। यूपी से बीजेपी विधायक शलभ मणि त्रिपाठी ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “चोटी वालों को गाली नहीं दी तो टोपी वालों के घनघोर चेले कैसे साबित होंगे। लगे रहिए इन्हीं ‘चोटी वालों’ के श्राप ने आपके अब्बू को सही ठिकाने पर पहुँचाया, अब आपको भी पहुँचाएंगे।”

वर्ष 2020 के विधानसभा चुनाव के पहले तेजस्वी यादव ने 10 लाख रोजगार देने का वादा किया था। हालांकि उस समय आरजेडी की सरकार नहीं बन पाई थी। लेकिन अब नीतीश कुमार के साथ आरजेडी के गठबंधन में आने के बाद लोग तेजस्वी यादव से रोजगार को लेकर सवाल पूछ रहे हैं। तेजस्वी यादव ने भी कहा है कि आने वाले एक महीने में बिहार में सबसे अधिक भर्तियां निकलेंगी।

पढें पटना (Patna News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.