ताज़ा खबर
 

छठ पूजा: मुस्लिम महिलाओं ने की घाटों और सड़कों की सफाई

मुस्लिम समाज की ये महिलाएं उन लोगों को एक बड़ी सीख दे रही हैं, जो छोटी-छोटी बातों पर धर्म के नाम पर समाज को बांटने में लग जाते हैं।

इन महिलाओं के हाथों में झाड़ू है जिसे लेकर वह घाट साफ करने में लगी हुई हैं। (फोटो सोर्स- एएनआई)

बिहार में गंगा नदी के किनारे छठ पूजा की तैयारी शुरू हो चुकी है। बिहार की सबसे बड़ा पर्व माने जाने वाली छठ पूजा के अवसर पर लोग सच्ची श्रद्धा के साथ घाट की सफाई करते हैं। गंगा किनारे छठ घाटों की सफाई में मुस्लिम महिलाएं भी जुटी हुईं हैं। मुस्लिम समाज की ये महिलाएं उन लोगों को एक बड़ी सीख दे रही हैं, जो छोटी-छोटी बातों पर धर्म के नाम पर समाज को बांटने में लग जाते हैं। इन महिलाओं के हाथों में झाड़ू है जिसे लेकर वह घाट साफ करने में लगी हुई हैं। छठी मइया की सेवा में लगी इन महिलाओं ने घाट के आसपास के रोड की भी सफाई की। उन्होंने पूरे घाट की सफाई की और अर्ध्य वाले स्थान को पूरी तरह साफ किया। उनकी इस निष्ठा को देखकर स्थानीय लोग भी उनकी काफी सराहना कर रहे हैं। छठ पूजा के लिए श्रद्धालुओं में अभी से उत्साह दिख रहा है।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Black
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • I Kall K3 Golden 4G Android Mobile Smartphone Free accessories
    ₹ 3999 MRP ₹ 5999 -33%
    ₹0 Cashback

महिलाओं के इस काम की सोशल मीडिया पर भी लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर एक यूजर्स ने लिखा है कि हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई सब एक हैं। हम सब हिंदुस्तानी हैं और हमें प्यार और मोहाब्बत के साथ रहना चाहिए। लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो ऐसा नहीं चाहते लेकिन उन लोगों के लिए ये मुस्लिम महिलाएं एक सीख देने का काम कर रही हैं।

छठ कई नामों से जाना जाता है जैसे छठी, डाला छठ, डाला पूजा, सूर्य षष्ठी। ये पर्व सूर्य और उसकी शक्ति को समर्पित होता है। इस दिन लोग सूर्य को अच्छी सेहत देने, खुशियां और उनकी रक्षा करने के लिए धन्यवाद करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App