ताज़ा खबर
 

महागठबंधन टूटने के बाद आरजेडी में बगावत, विधायक बोले- लालू और तेजस्‍वी की जिद ले डूबी

"महागठबंधन लालू प्रसाद के पुत्र मोह और उनकी और तेजस्वी की जिद के कारण टूटा है।"

आरजेडी प्रमुख लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव बिहार सरकार में उपमुख्यमंत्री थे।

बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में बगावत के सुर उठने लगे हैं। राजद के गायघाट के विधायक महेश्वर यादव ने गठबंधन टूटने के लिए पार्टी के अध्यक्ष लालू प्रसाद और उनके पुत्र पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव को जिम्मेदार बताया है। गायघाट से राजद विधायक महेश्वर यादव ने गुरुवार को यहां पत्रकारों से कहा, “महागठबंधन लालू प्रसाद के पुत्र मोह और उनकी और तेजस्वी की जिद के कारण टूटा है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा तेजस्वी यादव पर प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अगर इस्तीफा दे दिया जाता तो गठबंधन नहीं टूटता।” उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की एक आदत है कि वे अपने मंत्रिमंडल में दागी चेहरे को नहीं रखते हैं। उन्होंने तेजस्वी के इस्तीफे के लिए 14 दिनों तक इंतजार किया। कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात की परंतु जब बात नहीं बनी तब वे महागठबंधन तोड़कर निकल गए। उन्होंने दावा किया कि उनकी जैसी सोच राजद के कई और विधायकों की भी है। आगे की योजना के विषय में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मिल बैठकर आगे की योजना तय की जाएगी।

बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को कहा कि केंद्रीय जांच एंजेसियों द्वारा उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के संबंध में मामला दर्ज कराने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ मिलकर ‘साजिश रची।’ चारा घोटाला मामले में यहां केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की अदालत में पेश होने के बाद लालू प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा, “नीतीश कुमार ने बिहार के लोगों को धोखा दिया है। मैं आरोप लगाता हूं कि नीतीश कुमार ने मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ सीबीआई में मामला दर्ज कराने के लिए भाजपा के साथ गठजोड़ किया।” उन्होंने कहा कि उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले सुशील मोदी को उनके परिवार के सदस्यों की छवि खराब करने के लिए अभियान चलाने के लिए कहा गया।

सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और आयकर विभाग ने लालू प्रसाद की पत्नी राबड़ी देवी सहित उनके छोटे बेटे बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव व बेटी मीसा भारती के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया है। लालू ने नीतीश कुमार को ‘भस्मासुर’ बताते हुए कहा, “मेरी पार्टी के राज्य में अकेले सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बावजूद मैंने उन्हें मुख्यमंत्री बनाया। मैं स्वार्थी नहीं था।” नीतीश कुमार और सुशील मोदी के शपथ लेने के तुरंत बाद लालू यादव ने यह टिप्पणी की। उन्होंने दावा किया कि जब वह (लालू) आरोपों का सामना कर रहे थे, तो उनके जानने वाले लोगों ने उनसे सहानुभूति जताई, लेकिन नीतीश कुमार ने कभी ऐसा कुछ नहीं किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 नीतीश कुमार के बीजेपी से हाथ मिलाने पर जेडीयू में बगावत के सुर, लालू ने भी भरी हुंकार
2 लालू के डर से नीतीश ने लिया शाम के बजाय 10 बजे ही शपथ का फैसला, सुशील मोदी को मिलेगी पुरानी कुर्सी
3 बीजेपी ने किया समर्थन का ऐलान, नीतीश ने पीएम नरेन्द्र मोदी के ट्वीट का दिया यह जवाब