ताज़ा खबर
 

छात्रा को दोस्त ने ही दिया धोखा, फ्लैट में ले जाकर पहले शराब पिलाई फिर दोस्त के साथ किया गैंगरेप

पीड़ित को जेएनएल भागलपुर मेडिकल हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया है।

इसी अपार्टमेंट के फ्लैट में छात्रा के साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया। (फोटो सोर्स गिरधारी लाल जोशी)

बिहार के भागलपुर में दो छात्रों ने इंटर की एक छात्रा को कथित तौर पर अपने फ्लैट में बुलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। मामले में भागलपुर के महिला थाना में सोमवार (20 नवंबर) को केस दर्ज कर लिया गया है। एसएसपी मनोज कुमार ने बताया, ‘पीड़ित को जेएनएल भागलपुर मेडिकल हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया है। घटना बीती रविवार रात की है। हमने लड़की के बयान के आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। लड़की ने मनीष उर्फ अविनाश उर्फ बबुआ और सन्नी कुमार के खिलाफ सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाया है।’

एसएसपी कुमार के अनुसार दोनों आरोपी अभी फरार हैं। धड़पकड़ के लिए महिला थाना और आदमपुर थाना इंचार्ज को ड्यूटी पर लगाया गया है। पुलिस ने भी छापेमारी शुरू कर दी है। रिपोर्ट के अनुसार सन्नी कुमार पूर्णिया का रहने वाला है और मनीष भागलपुर के बिहपुर गांव का निवासी है। वहीं पीड़ित लड़की भी बिहपुर की रहने वाली है जो सर्वोदय स्कूल में इंटर की पढ़ाई करती है। मनीष और लड़की आपस में एक दूसरे को पहचानते हैं और दोस्त भी हैं। सन्नी कुमार और मनीष कुमार रिश्ते में भाई हैं। मनीष की भतीजी यहां के एसएम कॉलेज के हॉस्टल में रहती है। लड़की भी उसी के साथ रहती थी।

manoj kumar

एसएसपी मनोज कुमार

मनोज कुमार ने मीडिया को बताया, ‘मनीष स्थानीय पोस्ट ऑफिस के पास बने भगवती एपार्टमेंट के 201 नंबर फ्लैट में रहता है। पुलिस ने यहां से शराब के डिब्बे और ग्लास बरामद हैं। अवैध शराब मामले में  भी जांच के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए गए हैं। गौरतलब है कि लड़की भागलपुर में रहकर कोचिंग क्लास करती थी। रविवार को दोनों आरोपियों ने उसे बहकाकर फ्लैट लाए और खूब शराब पिलाई। इस दौरान नशे की हालत में होने पर दोनों आरोपियों ने लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद दोनों आरोपी पीड़ित को बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए। ये बात लड़की ने पुलिस के दिए अपने बयान में कही है।

दूसरी तरफ एसएसपी का कहना है कि जब पीड़िता को होश आया तो उसने शोर मचाया। ऐसा इसलिए है क्योंकि फ्लैट का दरवाजा बंद होने की वजह से वह काफी डर गई थी। बाद में पुलिस की मदद से दरवाजे को तोड़ा गया और पीड़ित लड़की को प्राथमिक उपचार के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X