ताज़ा खबर
 

पटना: सरस्वती पूजा में भड़काऊ डांस, जांच शुरू, हॉस्टल से गायब हुए लड़के

पटना विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर रासबिहारी सिंह ने कहा, 'यह घटना हैरान करने वाली है, जब यहां पर स्टेज लगाया जा रहा था तो मैंने जानना चाहा था कि वे लोग यहां कैसा आयोजन करने वाले हैं, उन लोगों ने कहा कि सरस्वती पूजा के बाद रात को यहां पर जागरण होगा।

पटना के डीएम ने कहा है कि कॉलेज के हॉस्टल में रह रहे अवैध लोगों को हटाया जाएगा (वीडियो ग्रैब)

पटना के बीएन कॉलेज में सरस्वती पूजा के मौके पर ‘अश्लील डांस’ मामले में प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी। पटना जिला प्रशासन इस मामले की जांच कर रहा है। छात्रों ने सरस्वती पूजा के नाम पर पटना यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर से ‘जागरण’ की इजाजत ली थी और इसके नाम पर अश्लील डांस का आयोजन किया था। इस डांस का वीडियो वायरल हुआ तो कॉलेज और जिला प्रशासन की नींद टूटी अब इस मामले की जांच हो रही है। प्रशासन के इस कदम के बाद हॉस्टल से अधिकतर लड़के गायब हो गये हैं। वीडियो में दिख रहा है कि तंग लिबास में कुछ लड़कियां भोजपुरी और हिन्दी फिल्मी गानों पर डांस कर रही है। स्टेज पर कई लोग भी मौजूद है और लड़कियों के साथ डांस कर रहे हैं। पटना विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर रासबिहारी सिंह ने कहा, ‘यह घटना हैरान करने वाली है, जब यहां पर स्टेज लगाया जा रहा था तो मैंने जानना चाहा था कि वे लोग यहां कैसा आयोजन करने वाले हैं, उन लोगों ने कहा कि सरस्वती पूजा के बाद रात को यहां पर जागरण होगा, जिन छात्रों ने इस आयोजन को करवाया है उसके खिलाफ हमलोग कड़ी कार्रवाई करेंगे।

पटना के डीएम कुमार रवि ने कहा कि घटना की जांच के आदेश दे दिये गये हैं। उन्होंने बताया, ‘मैंने इस मामले की जांच के आदेश दे दिये हैं, पटना सदर के एसडीओ और पटना टाउन डीएसपी इस मामले की जांच कर रहे हैं, दोषियों और बेकसूरों की पहचान की जाएगी, दो सदस्यों की टीम 3 दिन में रिपोर्ट देगी।’ उन्होंने यह भी कहा कि कॉलेज के हॉस्टल में रह रहे अवैध लोगों को हटाया जाएगा और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।बता दें कि बिहार-झारखंड में सरस्वती पूजा का धूम-धाम से आयोजन किया जाता है। इस दिन स्कूल-कॉलेजों में बच्चे मां सरस्वती की पूजा अर्चना करते हैं। हालांकि पिछले कुछ सालों में इस पूजा के साथ कई सामाजिक कुरीतियां भी जुड़ गई हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App