ताज़ा खबर
 

जींस बैन: प्र‍िंस‍िपल बोलीं- मुस्‍ल‍िम लड़क‍ियों का पहनावा ठीक, ह‍िंंदुओं का शर्मनाक

कॉलेज प्र‍िंस‍िपल का कहना है कि हम अभी आधुनिकता से मीलों दूर हैं। हमें वहां पहुंचने में अभी 50 साल लगेंगे।
बिहार की राजधानी पटना के मगध महिला कॉलेज प्रशासन ने कॉलेस परिसर में जींस पहनकर आने पर रोक लगा दी है।

बिहार की राजधानी पटना के मगध महिला कॉलेज प्रशासन ने कॉलेस परिसर में जींस पहनकर आने पर रोक लगा दी है। साथ ही क्लास रूम में मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी गई है। अजीब बात ये है कि कॉलेज प्रशासन जींस के साथ-साथ पटियाला सूट पहनकर आने पर भी रोक लगाई है। कॉलेज प्रशान का कहना है कि कॉलेज में जनवरी 2018 से नया ड्रेस कोड लागू किया जाएगा। मगध महिल कॉलेज की प्रिंसिपल शशि शर्मा का कहना है कि,” समाजिक असमानता को देखते हुए हमने सभी लड़कियों से अनुरोध किया है कि एक ड्रेस कोड में आएं।

मुस्लिम लड़कियां जींस नहीं पहनती इसलिए उनपर कभी आपत्ति नहीं की गई है लेकिन हिन्दू लड़कियों द्वारा पहने जाने वाली ड्रेसेस शर्मनाक हैं। हमारे कैंपस में मोबाइल फ्री जोन है जहां पर मोबाइल इस्तेमान किया जा सकता है लेकिन क्सास रूम में नहीं। हमारा कॉलेज कोई आधुनिक कॉलेज नहीं है जो इस तरह की आधुनिकता स्वीकार करे। हमे पारंपरिक तरीकों से सोचते हैं। हम अभी आधुनिकता से मिलो दूर हैं। हमें अभी वहीं 50 साल लगेंगे वहां पहुंचने में।

Photos: ये हैं दुनिया की सबसे युवा महारानी, सिर्फ 21 साल में हुई थी शादी

जब कॉलेज प्रशासन के इस कदम के बार में कॉलेज छात्र संघ की जनरल सेक्रेटरी लैला कजमी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जींस पर रोक पुराना नियम है। मोबाइल फोन का क्लास में इस्तेमाल पहले से ही मना है। फोन मोबाइल फ्री जोन में इस्तेमाल किया जा सकता है। लड़कियों ने कभी भी ड्रेस कोड पर आपत्ति नहीं की है। बल्कि लड़कियों ने तो इसके लिए अनुरोध किया था। ड्रेस कोड लड़कियों के बीच में से भेद भाव समाप्त करेगा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    bitterhoney
    Dec 6, 2017 at 10:01 pm
    In all educational ins utions dress code should be enforced strictly.
    (0)(0)
    Reply