ताज़ा खबर
 

बिहार: सड़क पर आई जेडीयू-आरजेडी गठबंधन की दरार, पोस्टर में नीतीश कुमार के नेताओं पर बीजेपी के आदेश पर काम करने का आरोप

इन पोस्टरों में जेडीयू के चार नेताओं अजय आलोक, संजय सिंह, श्याम रजक और नीरज कुमार पर निशाना साधा गया है।

लालू यादव और नीतीश कुमार। (फाइल)

पटना की सड़कों पर नए पोस्टर नजर आए हैं जो महागठबंधन के दो अहम साथियों जेडीयू और आरजेडी के बीच बढ़ती दरार की ओर इशारा करते हैं। इन पोस्टरों में जेडीयू के चार नेताओं पर निशाना साधा गया है। पोस्टर में जेडीयू के चार नेताओं की तस्वीरें हैं। इनके नाम हैं अजय आलोक, संजय सिंह, श्याम रजक और नीरज कुमार। इन नेताओं के बारे में पोस्टर के जरिए कहा गया है कि यह बीजेपी के इशारों पर काम कर रहे हैं। पोस्टर में लिखा है, “जडीयू के प्रवक्ता अनाप-शनाप बयान दे रहे हैं। जबकी नीतीश जी ने मना किया है उसके बावजूद भी ये लोग बाज नहीं आ रहे हैं और यह सब सुशील मोदी के इशारे पर हो रहा है।” पोस्टर रविवार (23 जुलाई) को पटना की सड़कों पर नजर आए। वहीं पोस्टर में किसी राजनीतिक दल या व्यक्ति का नाम नहीं है। पोस्टर किसने लगवाए हैं यह अभी रहस्य है।

बता दें लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार से जुड़ी 12 परिसंपत्तियों पर 6 जुलाई को सीबीआई की छापेमारी के बाद आरजेडी और जेडीयू के बीच तनाव की स्थिति बनती हुई नजर आ रही है। छापेमारी को लेकर आरजेडी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर बदले की भावना से की गई कार्रवाई करार दिया था। कथित भ्रष्टाचार के मामले में लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी का भी नाम है। तेजस्वी राज्य के उपमुख्यमंत्री भी हैं। यह मामला सामने आने के बाद बीजेपी ने तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग उठाई थी। वहीं लालू यादव ने इस्तीफे को लेकर दो कहा था कि तेजस्वी यादव इस्तीफा नहीं देंगे। उन्होंने कहा था कि सिर्फ एफआईआर दर्ज होना तेजस्वी के इस्तीफे का कारण नहीं है।

वीडियो (Source: YouTube/News24)

गौरतलब है सीबीआई की छापेमारी के बाद नीतीश कुमार की महागठबंधन से दूरियां बढ़ती हुई नजर आईं। शनिवार 22 जुलाई को नीतीश कुमार ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से उनके दिल्ली स्थित आवास पर मुलाकात की थी। उन्होंने राहुल से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के मुद्दे पर कांग्रेस का रुख स्पष्ट करने की मांग की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App