ताज़ा खबर
 

बिहार रोडरेज केस: JDU MLC के बेटे व दो अन्‍य को उम्रकैद, बिंदी यादव को 5 साल की जेल

मामला 7 मई, 2016 का है जब रोड पर साइड न देने पर आदित्‍य सचदेवा नाम के शख्‍स की रॉकी यादव ने हत्‍या कर दी थी।

राकेश रंजन उर्फ रॉकी यादव पर युवक आदित्‍य सचदेव की हत्‍या का दोष साबित हुआ है। (फाइल फोटो)

बिहार के चर्चित रोडरेज मामले में छात्र आदित्य सचदेवा की हत्या के मामले में बुधवार को गया की एक अदालत ने दोषी करार दिए गए जद (यू) की निलंबित विधान पार्षद (एमएलसी) के बेटे रॉकी यादव सहित तीन लोगों को उम्रकैद और आरोपी को शरण देने के मामले में रॉकी के पिता बिंदी यादव को पांच वर्ष कैद की सजा सुनाई। गया व्यवहार न्यायालय के अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश सच्चिदानंद प्रसाद सिंह की अदालत ने बुधवार को छात्र आदित्य सचदेवा हत्या मामले में रॉकी, उसके भाई टेनी यादव और एमएलसी के अंगरक्षक राजेश कुमार को उम्रकैद की सजा सुनाई। इसके अलावा बिंदी यादव को पांच वर्ष की सजा सुनाई। लोक अभियोजक सरताज अली खान ने बताया कि रॉकी को आर्थिक दंड के रूप में एक लाख रुपये, जबकि टेनी और राजेश को 50-50 हजार रुपये का आर्थिक दंड लगाया गया है।

उन्होंने बताया कि अदालत ने इस मामले में 31 अगस्त को मुख्य आरोपी रॉकी यादव, उसके भाई राजीव उर्फ टेनी यादव और एमएलसी के बॉडीगार्ड राजेश कुमार को हत्या का दोषी करार दिया, जबकि बिंदी यादव को भादंवि की धारा 212 और 177 के तहत आरोपी को शरण देने का दोषी ठहराया था। अदालत ने इस मामले में सजा के लिए बुधवार की तारीख मुकर्रर की थी। रॉकी यादव सत्तारूढ़ जनता दल (युनाइटेड) की निलंबित एमएलसी मनोरमा देवी का बेटा है।

सात मई, 2016 को 12वीं के छात्र आदित्य सचदेवा की उस समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जब वह अपने दोस्तों के साथ अपनी कार से बोधगया से अपने गया स्थित घर आ रहा था। रास्ते में साइड नहीं देने से नाराज रॉकी ने ओवरटेक कर सचदेवा की कार रोक दी थी और उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी।

इस घटना के बाद जदयू ने मनोरमा देवी को पार्टी से सस्पेंड कर दिया था। जांच के दौरान रॉकी पिता बिन्देश्वरी प्रसाद यादव उर्फ बिंदी यादव और उसके चचेरे भाई टेनी यादव को भी आरोपी बनाया गया था। घटना के दिन आदित्य सचदेवा के साथ जो दोस्त उसकी गाड़ी में मौजूद थे, उनलोगों ने ट्रायल के दौरान आरोपी को पहचानने से इनकार कर दिया था। आदित्य हार्डवेयर बिजनेसमैन श्याम सचदेवा का बेटा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App