मां राबड़ी ने दूर की दुविधा और तेज प्रताप ने ऐश्‍वर्या की अंगुली में डाल दी सगाई की अंगूठी, देखें वीडियो और तस्‍वीरें

तेजप्रताप यादव ऐश्वर्या को अंगूठी पहनाते वक्त एक बार तो चेहरे से काफी सीरियस नजर आ रहे थे, तभी किसी ने उनसे स्माइल की डिमांड की और तेजप्रताप ने हल्की से मुस्कान देकर उनकी डिमांड पूरी की।

tej pratap yadav, patna
तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की सगाई।

ऑन डिमांड मुस्कुराना और फिर अचानक थोड़ा गंभीर हो जाना। तेजप्रताप यादव जब ऐश्वर्या राय की ऊंगलियों में अपने नाम की अंगूठी डाल रहे थे तो उनके चेहरे की भावभंगिमा यह बता रही थी कि भले ही मौका उनकी जिंदगी की सबसे बड़ी खुशी का ही क्यों ना हो पिता लालू प्रसाद यादव की कमी तो खलेगी ही। अदालत से जेल की सजा मिलने के बाद बीमार लालू अस्पताल के बेड पर पड़े हैं और यकीनन उन्हें भी अपने बड़े बेटे की खुशियों में शामिल ना होने का दुख जरूर साल रहा होगा। तो बुधवार (18-04-2018) को बिहार के मोस्ट अवेटेड सगाई के लिए इंतजार की घड़ियां खत्म हुईं और इस खूबसूरत जोड़े ने एक दूसरे को अंगूठी पहनाई।

पटना के होटल मौर्या में लालू प्रसाद की आंखों के तारे उनके बड़े बेटे तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या की सगाई की रस्में पूरे रीति-रिवाज के साथ संपन्न हुई। इस सगाई की तस्वीरों का लब्बोलुआब यही है कि कार्यक्रम में खुशी के साथ-साथ लालू की गैरमौजूदगी का गम भी उनके परिवारवालों के चेहरे से साफ झलक रहा था।तेजप्रताप यादव ऐश्वर्या को अंगूठी पहनाते वक्त एक बार तो चेहरे से काफी सीरियस नजर आ रहे थे, तभी किसी ने उनसे स्माइल की डिमांड की और तेजप्रताप ने हल्की से मुस्कान देकर उनकी डिमांड पूरी की।

इस बीच कैमरे के फ्रेम में अचानक तेजप्रताप की मां और लालू प्रसाद की पत्नी राबडी देवी भी नजर आईं। इतने बड़े कार्यक्रम में लालू प्रसाद नहीं थे तो सारी जिम्मेदारी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के कंधों पर ही थी। राबड़ी देवी को जिम्मेदारी का एहसास बखूबी पता है लिहाजा वो सगाई की रस्मों के दौरान कभी मुस्कुराती तो कभी लोगों को समझाती नजर आ रही थीं। बेटे की सगाई में माता और पिता दोनों की भूमिका निभा रहीं राबड़ी देवी अपने चेहरे के हाव-भाव से यह जाहिर नहीं होने देना चाहती थीं कि लालू प्रसाद का यहां ना होना उनके अंदर ही अंदर कितना कचोट रहा है।

patna, bihar, jdu, ring ceremony, rjd, tej pratap yadav, aishwarya rai, lalu prasad yadav

इस बीच एक दिलचस्प वाकया भी हुआ। तेजप्रताप यादव यह समझ नहीं सके कि उन्हें अंगूठी ऐश्वर्या कि किस हाथ की किस ऊंगली में पहनानी है। बेटे की दुविधा को बिल्कुल पास खड़ी मां ने तुरंत भांप लिया और अपने दुलारे को रस्मों से अवगत कराया। इतना ही नहीं अंगूठी पहनाने के बाद राबड़ी देवी ने तुरंत बेटे पर फूलों की बारिश करने का इशारा किया और फिर वहां मौजूद लोगों ने इसमें कतई कंजूसी नहीं दिखलाई। इस बीच तेजप्रताप ने जैसे ही फूल बरसा रहे लोगों से कहा कि ‘और अच्छे से’ तो वहां हंसी और ठहाकों की गूंज सुनाई देने लगी। पूरे कार्यक्रम में राबड़ी बेटे के साथ साये की तरह रहीं। कार्यक्रम में आए मेहमानों ने इस सगाई समारोह का लुत्फ उठाया।

पढें बिहार समाचार (Bihar News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X